बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर ने ही किया था बलात्कार – न्यायालय

0

उन्नाव रेप कांड (Unnao rape case) में भाजपा नेता कुलदीप सिंह सेंगर (BJP leader Kuldeep Singh Sengar) को लंबे समय बाद आखिरकार दोषी साबित कर ही दिया (Kuldeep In Unnao rape case)। दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट (Tis Hazari Court of Delhi) ने सोमवार को अपना फैसला सुनाते हुए बीजेपी के निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को नाबालिग से रेप के मामले में दोषी करार किया। 2017 के अपहरण और बलात्कार मामले में विधायक सेंगर (MLA Sanger) को दोषी करार देते हुए कोर्ट ने चार्जशीट दाखिल करने में देरी को लेकर फटकार भी लगाई।

unnao gangrape : अब गैंगरेप पीड़िता के परिवार को जिन्दा जलाया…..!

क्या है मामला ?

वर्स्ज 2017 में उत्तरप्रदेश के उन्नाव में एक नाबालिग के साथ  दुष्कर्म (Former BJP MLA Kuldeep In Unnao rape case) किया गया। इसके बाद 2018 में सीबीआई ने इस संबंध में मामला दर्ज किया। उप्र की बांगरमऊ विधानसभा सीट से चौथी बार विधायक बने सेंगर को इस मामले के बाद अगस्त 2019 में बीजेपी से निष्कासित कर दिया गया था। अदालत ने नौ अगस्त को विधायक और सिंह के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र, अपहरण, बलात्कार और पॉक्सो कानून से संबंधित धाराओं के तहत आरोप तय किए थे। वहीं शशि सिंह को संदेह के घेरे में रखा गया, के खिलाफ पर्याप्त सबूत न होने और न ही मामले में सीधे तौर पर भूमिका स्पष्ट होने के चलते कोर्ट ने उन्हें संदेह का लाभ देते हुए मामले से बरी कर दिया है।

Unnao Rape Case : धरने पर बैठे अखिलेश यादव, मायावती ने दी नसीहत


सीबीआई को फटकार

कोर्ट ने कहा कि इतने समय तक मामले की जांच को लटकाने का क्या फायदा था। ऐसे में पीड़िता को न्याय मिलने में देरी हुई। तीस हजारी कोर्ट ने विधायक कुलदीप सेंगर (Former BJP MLA Kuldeep In Unnao rape case) को धारा 120 बी (आपराधिक साजिश), 363 (अपहरण), 366 (शादी के लिए मजबूर करने के लिए एक महिला का अपहरण या उत्पीड़न), 376 (बलात्कार और अन्य संबंधित धाराओं) और POCSO के तहत दोषी ठहराया है।

Unnao Rape Victim Death : उन्नाव रेप पीड़िता के पिता ने कही बड़ी बात

             – Ranjita Pathare 

Share.