जज बनने वाली देश की पहली महिला वकील

0

केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट की कॉलेजियम की सिफारिश को मंजूरी देते हुए वरिष्ठ वकील इंदु मल्होत्रा को जज बनाने को अपनी मंजूरी दे दी है। सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने तीन महीने पहले उनके नाम की सिफारिश की थी, जिस पर सरकार ने बुधवार को मुहर लगा दी है। इंदु सुप्रीम कोर्ट में वकील से सीधे जज बनने वाली पहली महिला होंगी। सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस आर.बनुमाति के बाद इंदु दूसरी महिला जज होंगी।

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में शुरुआत के 39 वर्षों में कोई महिला जज नहीं रहीं। 1989 में फातिमा बीबी को सुप्रीम कोर्ट का जज बनाया गया। इसके बाद जस्टिस सुजाता मनोहर, जस्टिस रुमा पाल, जस्टिस सुधा मिश्रा और जस्टिस रंजना देसाई को सुप्रीम कोर्ट में जज नियुक्त किया गया। इंदु मल्होत्रा आजादी के बाद से अभी तक सुप्रीम कोर्ट की जज बनने वाली छठी महिला होंगी। फिलहाल जस्टिस जी.रोहिणी और आर.बनुमाति सुप्रीम कोर्ट में महिला जज हैं।

Share.