दिवाली पर दिल्ली में लगी 245 जगह आग, जूझते रहे फायर फाइटर्स

0

दिल्ली: केन्द्र सरकार के सख्त आदेश के बाद भी दीपावली (Diwali) पर लोग पटाखे जलाने से बाज नहीं आये लोगों ने ग्रीन पटाखों की आड़ में नान ग्रीन पटाखों से जमकर आतिशबाजी की जिससे राजधानी की हवा तो खराब हुई ही साथ ही इन पटाखों की वजह से पूरी राजधानी आग की चपेट में आ गई (Fire Break Out On 245 Places In Delhi)। जानकारी के अनुसार दिल्ली में दिवाली के दिन लगभग 245 जगहों पर आग लगी जिनपर काबू पाने के लिए फायर फाइटर्स घंटों जूझते रहे। दिल्ली दमकल विभाग (Delhi fire brigade) ने आग से निपटने के लिए अस्थाई फायर स्टेशन भी बनाए हुए थे. लेकिन राहत की बात ये कि इस दिवाली पर आग लगने की घटनाएं पिछले वर्ष के मुकाबले मामूली कम हुई हैं. जगह जगह हुई इन आगजनी घटनाओं में 3 लोग झुलस गए।

इंदौर में अस्पताल के पास भीषण आग!

जानकारी के अनुसार दमकल विभाग की मानें तो आग लगने की अधिकतर घटनाएं जलते हुए पटाखे के चलते हुईं या फिर पूजा के बाद जलाकर छोड़े गए दीपक की वजह से. 26 अक्टूबर की रात से लेकर दिवाली की रात तक विभाग के पास 245 कॉल आग लगने की आईं. जिन्हें समय पर पहुंचकर विभाग की गाड़ियों और फायर फाइटर्स ने बुझा दिया. सबसे अच्छी बात ये थी कि विभाग ने इस साल 22 अस्थाई फायर स्टेशन बनाए थे. वहीं 2 हजार फायर फाइटर्स की तैनाती की गई थी. रविवार शाम छह बजे से सोमवार सुबह छह बजे के बीच आग लगने की 214 कॉल आईं (Fire Break Out On 245 Places In Delhi)। इसी समय अवधि में वर्ष 2018 में कॉल की संख्या 223 थी।

‘पटाखा’ वाले बयान पर बीजेपी के कपिल मिश्रा को जेल!

अधिकतर जगहों पर छोटी-मोटी आग लगी। जिसे लोगों ने दमकल कर्मियों के पहुंचने से पहले ही बुझा लिया। पिछले साल दिल्ली में आग लगने की घटनाये लगभग 271 थी जिसके मुकाबले इस वर्ष 245 आग लगने की घटनाएं थोड़ा कम है।

पीएम मोदी सऊदी में, भारत के लिए होगा अहम दौरा

-Mradul tripathi

Share.