मोदी को खत लिखने वाले 50 सेलेब्रिटी जाएँगे जेल !

0

मॉब लिंचिंग यानि भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या कर देने के बारे में अब तो शायद देश का बच्चा-बच्चा भी अच्छे से जानता होगा। देश में मॉब लिंचिंग (Mob lynching) के मामलों की झड़ी सी लग गई है। इन मामलों को बढ़ता देख कुछ कलाकारों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के नाम चिट्ठी लिखी थी, जिसके लिए अब उन्हें जेल की हवा खानी पड़ सकती है। पीएम मोदी (PM Modi) को खुला खत लिखना अब 50 सेलेब्रिटियों को भारी पड़ गया है। सभी के खिलाफ मुजफ्फरपुर में प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसके बाद कई लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया है (FIR Filed Against 50 Celebrities)।

बांग्लादेश की PM शेख हसीना ने असम में NRC का किया समर्थन

सरकार से सवाल तो होगा बवाल

मोदी सरकार से मॉब लिंचिंग के बारे में सवाल करने का फल यह निकला की रामचंद्र गुहा, मणि रत्नम और अपर्णा सेन समेत 50 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। कई लोगों का कहना है कि सरकार से सवाल करना ही इस देश में गुनाह हो गया है (FIR Filed Against 50 Celebrities)। इसीलिए सवाल पुछने या हक की मांग करने वालों को जेल भेजा जा रहा है।

यहां देखें बालाकोट एयरस्ट्राइक का पहला Video

जानकारी के अनुसार, स्थानीय वकील सुधीर कुमार ओझा की ओर से दो महीने पहले दायर की गई एक याचिका पर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (सीजेएम) सूर्य कांत तिवारी के आदेश के बाद यह प्राथमिकी दर्ज हुई है। वकील ओझा का इस मामले में कहना है कि सीजेएम ने 20 अगस्त को उनकी याचिका स्वीकार कर ली थी। इसके बाद सदर पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज हुई। वकील ने आरोप लगाया कि
इन हस्तियों ने देश और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि को कथित तौर पर धूमिल किया। पुलिस ने बताया कि प्राथमिकी भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत दर्ज की गयी है। इसमें राजद्रोह, उपद्रव करने, शांति भंग करने के इरादे से धार्मिक भावनाओं को आहत करने से संबंधित धाराएं लगाई गईं हैं।

कांग्रेस तबाह, इस बड़े नेता ने छोड़ा पार्टी का हाथ

इनके खिलाफ दायर किया मामला

कौशिक सेन, कोंकना सेनशर्मा, परमब्रता चट्टोपाध्याय, पर्था चटर्जी, रिद्धि सेन, रुपषा दासगुप्ता, सक्ती रॉय चौधरी, सुमन घोष, सुमित सरकार, तनिका सरकार, तपस रॉय चौधरी, अदिती बसु, अंजन दत्त, अनुपम रॉय, अपर्णा सेन, बैसाखी घोष, बिनायक सेन, बोलन गंगोपाध्याय, सामिक बनर्जी, शिवाजी बसु,  श्याम बेनेगल, सौमित्र चटर्जी, चित्रा सिरकार, देबल सेन, गौतम घोष, जोवा मित्रा  के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

    – Ranjita Pathare

Share.