पाकिस्तान की अब खैर नहीं…

0

पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान में घुसकर आतंकियों के ठिकानों को नेस्तानाबुत कर दिया था| इसके बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच लगभग युद्ध जैसी स्थिति बनी हुई है| पाकिस्तान की ओर से अमेरिकी एफ-16 विमान भारत की सीमा में भेजा गया था| भारत ने अपने सैन्य प्रतिष्ठानों पर 27 फरवरी को हुए असफल हमले में अमेरिकी एफ-16 विमानों के उपयोग के सबूत पेश किए हैं|

पाक के ‘292 आतंकियों की मौत’ की सच्चाई ?

अमेरिकी विदेश विभाग के उप प्रवक्ता रॉबर्ट पैलाडिनो

अमेरिकी विदेश विभाग में पहुंचा मामला

पाकिस्तान द्वारा एफ-16 विमानों से भारत में किए गए हमले का मामला अब अमेरिकी विदेश विभाग तक पहुंच गया है| विभाग के उप प्रवक्ता रॉबर्ट पैलाडिनो ने इस बारे में कहा है कि हमने उन रिपोर्टों को देखा है और हम इस मामले को बहुत बारीकी से देख रहे हैं| मैं किसी भी चीज की पुष्टि नहीं कर सकता, लेकिन नीतिगत तौर पर हम अन्य देशों के साथ द्विपक्षीय समझौतों की सामग्री पर सार्वजनिक रूप से टिप्पणी नहीं करते हैं| इस मुद्दे में न तो अमेरिकी रक्षा प्रौद्योगिकियों और न ही संचार के बारे में कोई टिप्पणी कर सकते हैं|

जासूसी के उद्देश्य से बाज को पाकिस्तान से भेजा ?

अमेरिका के चेताया

अमेरिका द्वारा पाकिस्तान को पहले भी चेताया गया था कि वह इन विमानों का उपयोग केवल विकट परिस्थिति में कर सकता है और भारत के खिलाफ इनका इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए था| भारतीय वायुसेना ने 28 फरवरी को मिसाइल के अवशेषों को बतौर साक्ष्य प्रस्तुत किए थे| इसके बाद कहा गया था कि पाकिस्तान के पास एफ-16 के अलावा ऐसे कोई दूसरे लड़ाकू विमान नहीं हैं जो इस मिसाइल को दाग सकें| अब यदि पाकिस्तान के खिलाफ यदि एफ-16 आरोप सिद्ध हो जाते हैं तो अमेरिका पाक को सबक सिखा सकता है|

‘भारत के वीर’ खाते में अब तक 80 करोड़

        – रंजीता

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

 

Share.