70 साल बाद इस गांव में पहुंची बिजली

0

एक तरफ देश में जहां बात डिजिटल इंडिया की हो रही हो, वहीं दूसरी ओर एक ऐसा गांव है, जिसने इस ईद से पहले कभी बिजली नहीं देखी है|  यह सोचना भी असंभव सा लगता है| आज़ादी के 70 साल बाद भी इंटरनेट की दुनिया में खोए इस देश के एक गांव में बिजली नहीं पहुंच पाई थी, लेकिन इस ईद प्रधानमंत्री ने उत्तरप्रदेश के इस गांव को खास ईदी दी है|

यूपी की राजधानी लखनऊ से मात्र 100 किमी की दूरी पर हरदोई ज़िले के गांव गोठवा में लोगों ने बिजली के दर्शन भी नहीं किए थे| मुस्लिम बहुल यह गांव पिछले 70 सालों से बिना रोशनी के ईद मना रहा था| 70 सालों में केंद्र और राज्य में कई सरकारें बदलीं, लेकिन इस गांव की फरियाद नहीं सुनी गई| अब जाकर इस गांव को बिजली की ईदी मिली है| पीएमओ तक जब यह बात पहुंची कि यूपी के इस गांव में बिजली नहीं है तो आला अधिकारियों को भेजकर गांव का जायज़ा लिया गया| यही नहीं पीएमओ ने देखते ही देखते गांव के सभी घरों में बिजली की व्यवस्था करवा दी|

यूपी के गोठवा गांव ने इससे पहले कभी ऐसी ईद नहीं मनाई, जब पूरा गांव रोशनी से चमक रहा था| इस साल पहली बार ईद की रात पूरे गांव में ख़ुशी की एक अलग लहर देखने को मिली| पहली बार गांव के बच्चों ने बल्ब जलते देखा| पहली बार इस गांव के लोगों को गर्मी में पंखे की हवा नसीब हुई| ईद तो हमेशा ही खास होती है, लेकिन इस बार की ईद गोठवा के लिए बेहद खास थी|

गांव में बिजली के तार जुड़ने से कई लोगों के सपने पूरे हुए हैं| यह गांव बिजली के लिए दशकों से संघर्ष कर रहा था, लेकिन आती-जाती सरकारों ने कभी इनकी नहीं सुनी| हालांकि मौजूदा केंद्र सरकार ने इस गांव को यह सौगात देकर इनकी वर्षों की फरियाद सुनी है|

Share.