ऑटो चालक ने 5 साल की बच्ची से किया बलात्कार, हालत गंभीर

0

दरभंगा: इन दिनों हैवानियत से हाहाकार मचा हुआ है. हैदराबाद और उन्नाव जैसी दिल दहला देने वाली घटनाओं के बाद इसी प्रकार की एक और घटना प्रकाश में आई है जानकारी के अनुसार बिहार (Bihar) के दरभंगा (Drabhanga) जिले में एक टेंपो चालक (ऑटो ड्राइवर) ने पांच साल की बच्ची से हैवानियत की है. पीड़ित बच्ची को खून से लथपथ हालत में दरभंगा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (DMCH) में भर्ती करवाया गया है. यहां बच्ची का ऑपरेशन किया गया है. पुलिस के अनुसार मामला सामने आने के बाद देर रात आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है.

Unnao Rape Victim Death : उन्नाव रेप पीड़िता के पिता ने कही बड़ी बात

दरभंगा (Drabhanga) जिले के सदर थाना क्षेत्र के एक गांव में शुक्रवार की देर शाम सात बजे के बाद कुछ बच्चे दरवाजे पर आग सेंक रहे थे. घर के अन्य सदस्य आंगन में थे. इसी बीच वहां से एक ऑटो चालक गाड़ी लेकर गुजर रहा था. उसने बच्ची के साथ एक छोटे बच्चे को अपनी गाड़ी में बिठा लिया. गांव से करीब एक किलोमीटर दूर खडुआ तथा लक्ष्मीपुर के बीच सुनसान जगह पर ले जाकर लड़के को उतार दिया और बच्ची के साथ दुष्कर्म किया. इसी दौरान उसे ढूंढ़ते हुए जब परिजन पहुंचे, तो आवाज सुन कर लहूलुहान अवस्था में बच्ची को देखा. आरोपित चालक दुष्कर्म करने के बाद बच्ची को लहूलुहान अवस्था में मासूम को छोड़ कर फरार हो गया था. परिजनों ने मामले की सूचना फ़ौरन पुलिस को दी. प्रभारी थानाध्यक्ष विश्वनाथ पुलिस बल के साथ बच्ची को इलाज के लिए डीएमसीएच लेकर चले गये. पीड़ित बच्ची के पिता की मानें तो दोनों बच्चे अगल-बगल में मिले. अगर कुछ पल की देरी होती तो आरोपी उनकी जान लेने की फिराक में था. बताया जा रहा है कि आरोपी ऑटो ड्राइवर के हाथ में चाक़ू भी देखा गया था. आरोपी की पहचान भगवानपुर निवासी तेतर साहनी के रूप में की गयी है. वहीं पीड़ित बच्ची गरीब परिवार से है और उसके पिता बाहर रहकर मजदूरी करते हैं.

उन्नाव रेप पीड़िता की मौत, आखिर कब तक हारेगी बेटियाँ ?

बुलंदशहर में नाबालिग से गैंगरेप-

इसी प्रकार की हैवानियत की एक और घटना उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में हुई खेत में सब्जी तोड़ने गई एक 14 साल की नाबालिग किशोरी के साथ तीन युवकों ने खेत में बंधक बनाकर गैंगरेप किया है. हवस का शिकार बनाने के बाद आरोपियों ने गैंगरेप का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस- प्रशासन के हाथ-पांव फुल गए. इसके बाद पुलिस ने आनन-फानन में मामला दर्ज पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए जिला महिला चिकित्सालय भेज दिया. आरोप है कि दरिंदों ने घटना के बारे में किसी को बताने पर पीड़िता को जान से मारने की धमकी भी दी थी. वहीं, पुलिस की माने तो पीड़िता के चाचा ने चार आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया और पुलिस ने 2 घंटे के अंदर तीन आरोपियों और वीडियो वायरल करने के चौथे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

हैदराबाद गैंगरेप : पुलिस एनकाउंटर के बाद परिजन ने शव लेने से किया इंकार

-Mradul tripathi

Share.