भीलवाड़ा में कोरोना का कहर, लगा कर्फ्यू

0

दुनियाभर में Coronavirus के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं और इससे हिन्दुस्तान भी अछूता नहीं है। देश में अब तक कोरोना वायरस के 200 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। राजस्थान के भीलवाड़ा (Coronavirus In Bhilwara) में अचानक कोरोना वायरस के मामले बढ़ने वे हड़कंप मच गया। भीलवाड़ा में कोरोना वायरस के दर्जनों मामले सामने आए तो जिला प्रशासन समेत स्वास्थ्य विभाग के हाथ-पैर फूल गए। आनन-फानन में जिला कलेक्टर ने भीलवाड़ा नगर परिषद क्षेत्र में कर्फ्यू (Curfew in Bhilwara) का ऐलान कर दिया। इस घोषणा के बाद पुलिस और प्रशासनिक (Police and Administrative) अधिकारियों ने तत्काल बाजारों को बंद करवाना शुरू किया। इसके लिए पुलिस प्रशासन ने बाजारों में जाकर लोगों को दुकान बंद कर अपने घर जाने की बात कही। जिला प्रशासन ने सावधानी बरतते हुए ये एतिहातन कदम उठाया है। पुलिस द्वारा बाजार बंद कराए जाने के कई वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किए गए। ये वीडियो तेजी से वायरल हो रहे हैं।

Coronavirus को लेकर पीएम मोदी का देश के नाम संदेश

कर्फ्यू लगाने का कारण

बता दें कि जिला मजिस्ट्रेट (District Magistrate) और जिला कलेक्टर (District Collector) राजेंद्र भट्ट (Rajendra Bhatt) ने भीलवाड़ा नगर परिषद क्षेत्र के सभी पांचों थाना क्षेत्र में कर्फ्यू (Curfew in Bhilwara) लगा दिया है। क्या कारण है जो प्रशासन को कर्फ्यू लगाना पड़ा? दरअसल शहर के एक प्राइवेट अस्पताल (Private hospital) में कोरोना वायरस से 3 डॉक्टर सहित 22 कर्मियों को संक्रमित पाया गया। इन सभी के संदिग्ध पाए जाने के बाद जिला प्रशासन (District administration) ने यह कदम उठाया। इन सभी संदिग्धों को राजकीय महात्मा गांधी चिकित्सालय (Rajkiya Mahatma Gandhi Chikitsalaya) के आइसोलेशन आईसीयू वार्ड में भर्ती किया गया है। इनमें से एक डॉक्टर के सैंपल की जांच उदयपुर लैब ने अवेटिंग मानते हुए पुणे भेजी थी। बाकी सभी के लोगों के सैंपल जयपुर भेजे गए थे। इसमें से एक डॉक्टर में कोरोना वायरस (Coronavirus) की पुष्टि हुई है बाकी सभी की रिपोर्ट्स अभी बाकी हैं। इन मरीजों के सामने आने के बाद मुख्‍य चिकित्‍सा अधिकारी ने निजी अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड (Isolation ward) बनाए जाने के आदेश पारित किए। बता दें कि कोरोना के संदिग्ध चिकित्सक को पहले ही अस्पताल में दाखिल किया गया था। इसके बाद अन्य कर्मियों को भी संदिग्ध पाया गया।

जाने देश के किन राज्यों में Coronavirus के कितने मामले

क्या बोले कैबिनेट स्वास्थ्य मंत्री

गौरतलब है कि राजस्थान सरकार के कैबिनेट स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री रघु शर्मा (Raghu Sharma) ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए जानकारी दी कि, “जो नए केस रिपोर्ट हुए हैं उनमे से अभी 2-3 की पुष्टि नहीं हुई, लगभग 12 मान लीजिए आप।” आगे शर्मा ने कहा, “और सबसे जो गंभीर बात है भीलवाड़ा में एक प्राइवेट हॉस्पिटल में जो डॉक्टर थे, वो खुद पॉजिटिव आए हैं। जब डॉक्टर पॉजिटिव आता है तो बहुत खतरनाक स्थिति होती है कम्युनिटी स्प्रेडिंग की। उन्होंने कितने लोगों को देखा है, कितने लोग उनके टच में आए। वहां जो 253 लोग हैं हॉस्पिटल के उन लोगों को, कितने लोगों को संक्रमण हुआ है, इसलिए भीलवाड़ा में कर्फ्यू लगाया गया है। बॉर्डर सील करने की बात की गई है। दूसरे जिलों से वहां लोग नहीं जाएं और वहां के लोग दूसरे जिलों में नहीं जाएं इस बात के डायरेक्शन जारी किए गए हैं।”

Coronavirus की वजह से निवेशकों के डूबे 11.42 लाख करोड़ रुपए

गौरतलब है कि भीलवाड़ा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश मीणा (Rajesh Meena) और अतिरिक्त जिला कलक्टर एनके जैन (NK Jain) ने कर्फ्यू (Curfew in Bhilwara) की घोषणा के बाद, रेलवे स्टेशन से लेकर गोल प्याऊ चौराहे तक की दुकानें बंद करवा दी हैं। जब से जिला प्रशासन (District administration) ने कर्फ्यू लगाए जाने की घोषणा की और अधिकारियों ने बाजार में लोगों से दुकाने बंद करने को कहा तब से बाजार धड़ाधड़ बंद हो रहे हैं। इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग ने 300 टीमों के माध्यम से शहर के 80 हजार मकानों में घर-घर सर्वे भी शुरू कर दिया है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग ने निजी अस्पतालों में दाखिल होने वाले मरीजों के बारे में भी जानकारी मंगवाई है। आज शाम 5 बजे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री रघु शर्मा (Raghu Sharma) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) से वीडियो कॉन्फ्रेंस करेंगे।

आखिर कौन हैं Coronavirus की भविष्यवाणी करने वाली Sylvia Brownie

 

Prabhat Jain

Share.