दिल्ली पहुंचा Coronavirus, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने दी ये सलाह

0

चीन के हुबेई से दुनिया भर में फैला कोरोना वायरस (Coronavirus Reached Delhi) जिसे विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोविड-19 (COVID-19) नाम दिया है अब तक जमकर तबाही मचा चुका है। अब यह वायरस (Corona Outbreak) भारत की राजधानी दिल्ली तक पहुंच चुका है। राजधानी दिल्ली (Coronavirus Delhi)  में इस वायरस का पहला मामला सामने आया है। इस बात की जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय (Harsh Vardhan) द्वारा दी गई है। राजधानी दिल्ली के अलावा तेलंगाना (Telangana) में भी एक मामला सामने आया है जहां एक शख्स इस वायरस से संक्रमित है। बता दें कि कोरोना वायरस चीन के हुबेई प्रांत से फैला था जिसने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है। अभी तक इस वायरस से मरने वालों की संख्या 3000 पार कर चुकी है। देश की राजधानी दिल्ली में जो शख्स इस वायरस (Coronavirus Update)  से संक्रमित पाया गया है वह कुछ दिन पहले ही इटली से लौटा था। जबकि तेलंगाना का मरीज दुबई से लौटा था। स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी देते हुए कहा कि मरीजों पर बारीकी से नज़र रखी जा रही है। फिलहाल दोनों पीड़ितों की हालात स्थिर बताई जा रही है।

Coronavirus के कारण फंसे जापानी जहाज में हिन्दुस्तानी ने गाया गाना, वीडियो हुआ वायरल

गौरतलब है कि इससे पहले भारत सरकार ने चीन (Coronavirus Of China)  में फंसे अपने नागरिकों को वापस लाने के लिए एयर इंडिया (Air India) के 2 विमान भेजे थे और वहां से अपने 640 भारतीयों को वापस बुलाया था। चीन (Coronavirus Reached Delhi) से लौटने के बाद इन सभी नागरिकों को इंडियन आर्मी और आइटीबीपी के कैंप में रखा गया था जहां इन पर कड़ी निगरानी रखी जा रही थी। गहन जांच और स्क्रीनिंग के बाद सभी नागरिकों को घर जाने की अनुमति प्रदान कर दी गई थी। हालांकि अभी तक देश में इस वायरस (Coronavirus Havoc) की वजह से कोई मौत नहीं हुई है। वहीं हाल ही में दिल्ली और तेलंगाना से सामने आए मरीजों को निगरानी में रखा गया है और उन्हें किसी से भी मिलने की अनुमति नहीं दी गई है। सुरक्षा के लिहाज से विदेश से आने वाले यात्रियों की एयरपोर्ट्स पर ही थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है।

चाइना की जेलों में भी Coronavirus का कहर

गौरतलब है कि इस वायरस (Coronavirus Reached Delhi) के संक्रमण की वजह से कुछ दिन पहले एक जापानी जहाज ‘डायमंड प्रिंसेज’ क्रूज (Diamond Princess) को जापान के योकोहामा बंदरगाह पर रोक लिया गया था। इस जहाज में भारतीय नागरिक भी मौजूद थे जिन्हे रेस्क्यू करने के लिए भारत सरकार प्रयास कर रही थी। भारत सरकार ने इस जापानी जहाज से अपने 119 नागरिकों को रेस्क्यू किया था। जापान से लाए गए सभी नागरिकों को सीधे मानेसर सेंटर ले जाया गया है जहां सभी को डॉक्टर्स की निगरानी में रखा गया है। इससे पहले केरल में भी 3 मामले सामने आए थे जिन्हे डॉक्टरों की टीम की निगरानी में रखा गया है और तीनों पीड़ितों की हालत स्थिर बताई जा रही है। बता दें कि यह खतरनाक वायरस पूरी दुनिया में लगभग 89 हजार लोगों को शिकार बना चुका है और इस वायरस की वजह से 3 हजार से भी ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। इस घातक वायरस की वजह से किस देश में कितनी मौतें हुईं उनके आंकड़ें नीचे दर्शाए जा रहे हैं।

चीन – 80,026 मामले, 2,912 मौतें

हॉन्ग कॉन्ग – 94 मामले, दो की मौत

मकाउ – 10 मामले

साउथ कोरिया – 4,212 मामले, 22 मौतें

इटली – 1,694 मामले, 34 की मौत

ईरान – 978 मामले, 54 मौतें

जापान – 961 मामले, 12 की मौत

फ्रांस – 130 मामले, एक व्यक्ति की मौत

इसके अलावा भी अलग-अलग देशों से कोरोना वायरस (Coronavirus Reached Delhi)  से मौत और इसके संक्रमण के मामले सामने आए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) ने इस संबंध में अपने ट्वीटर हैंडल से एक ट्वीट कर भारतीय नागरिकों को चीन, ईरान, कोरिया, सिंगापुर और इटली की गैर-जरूरी यात्रा से बचने की सलाह दी है। हर्षवर्धन ने कहा कि अगर जरूरी न हो तो इन देशों की यात्रा से बचें ताकि इस वायरस के संक्रमण को कम किया जा सके।

साउथ कोरिया (Coronavirus South Korea)  में इस वायरस (Coronavirus Reached Delhi) की वजह से 4,212 लोग संक्रमित हो चुके हैं और इनमें से 22 लोगों की मौत हो चुकी है। साउथ कोरिया में तेजी से फ़ैल रहे इस वायरस की रोकथाम के लिए उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने एक बेहद ही अजीबोगरीब फरमान जारी किया है। दरअसल किम जोंग (Kim Jong-un)  अपने इन्हीं तानाशाही आदेशों की वजह से सुर्ख़ियों में रहते हैं। इस बार किम ने एक और तानाशाही आदेश जारी किया है और इस वायरस की रोकथाम के लिए इससे पीड़ितों को गोली मारने का आदेश दिया है। जी हां एक रिपोर्ट के अनुसार किम ने अपने नए आदेश में कहा कि यदि देश में कोई भी कोरोना वायरस से संक्रमित मिलता है तो उसे इलाज की जगह गोली मार दी जाए ताकि संक्रमण न फ़ैल सके।

Coronavirus से दुनिया में मचा हाहाकार, 74 हज़ार हुए शिकार

Prabhat Jain

Share.