Rahul Gandhi को मनाने के लिए कार्यकर्ताओं की गांधीगिरी

0

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ( President of Indian National Congress Rahul Gandhi) जिद पर अड़े हैं कि वे अध्यक्ष पद से इस्तीफा देकर रहेंगे, लेकिन लगता है कि कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भी यह ठान लिया है कि राहुल गांधी को इस्तीफा नहीं देने देंगे। कांग्रेस के कार्यकर्ता आत्महत्या की कोशिश कर रहे हैं, अनशन कर रहे हैं  कि बस राहुल गांधी का फैसला बदल जाए। मंगलवार को पार्टी मुख्यालय के बाहर सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अनशन किया। अब ये अनशन आगे भी जारी रहेगा जब तक कि राहुल गाँधी का फैसला बदल न जाएं।

ममता सरकार ने दी सवर्णों के आरक्षण बिल को मंजूरी

राहुल गांधी के लिए अनशन

सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस के कार्यकर्ता और नेताओं ने मंगलवार सुबह अनशन शुरू कर दिया था। वहीं, प्राप्त जानकारी के अनुसार, अब इस अनशन को दो दिनों के लिए बढ़ा दिया गया है। इसके पहले यह घोषणा की गई थी कि अनशन कुछ ही देर में ख़त्म हो जाएगा, लेकिन अब ऐसा नहीं हो रहा है। पार्टी के नेता और कार्यकर्ता कह रहे हैं कि जब तक राहुल गांधी अपना इस्तीफा वापस नहीं लेंगे, वह यहां से नहीं हटेंगे। ये अनशन केवल दिल्ली में ही नहीं बल्कि कई अन्य राज्यों में भी शुरू होने वाला है। राज्य के नेताओं से भी अनशन करने के लिए कहा जा रहा है।

नई सरकार हर परिवार के व्यक्ति को दे रही सरकारी नौकरी

दिल्ली कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश लिलोठिया (RAJESH LILOTHIA ) ने कहा कि अब हम अपना अनशन बढ़ाने जा रहे हैं और अगले कुछ दिनों तक हम यहां बैठेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि तमाम राज्यों में भी यह अनशन शुरू होने वाला है। हालांकि, वह इस बात से इनकार करते हैं कि यह अनशन पार्टी के सीनियर नेताओं पर दबाव बनाने के लिए किया गया है। आज जहां कई कार्यकर्ता अनशन पर बैठे हैं वहीं एक कार्यकर्ता ने आत्महत्या भी करने की कोशिश की। कार्यकर्ता ने कहा कि यदि राहुल गाँधी का फैसला नहीं बदला तो वे आत्महत्या कर लेंगे। कार्यकर्ता को समय रहते बचा लिया गया था।

स्किल इंडिया का बढ़ सकता है बजट

Share.