डूबती कांग्रेस की नैया, नहीं मिल पा रहा नया अध्यक्ष !

0

लोकसभा चुनाव ( Lok Sabha Election Results 2019 )में करारी हार का सामना करने के बाद राहुल गाँधी (Rahul Gandhi) ने कांग्रेस अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया था। राहुल गाँधी के इस्तीफा देने के बाद तो काफी समय तक उन्हें कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और बड़े नेताओं ने मनाने की कोशिश की, लेकिन अंत में सभी ने हार मान ली। अब नए अध्यक्ष की तलाश शुरू हो चुकी है। वहीँ विपक्ष के लोगों का कहना है कि कांग्रेस(Indian National Congress)  का पतन हो रहा हैं। कुछ लोग यह भी कह रहे हैं कि यदि जल्द ही नया अध्यक्ष नहीं चुना गया तो कांग्रेस की तैया डूब सकती है।

Video : यूपी के गोंडा में विचित्र एक्सीडेंट, पेड़ पर उल्टी लटकी कार

  राहुल गाँधी की तारीफ़ ?

अब कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर कार्यसमिति की बैठक बुलाने का मामला 22 जुलाई तक टल गया है। संभव है कि संसद के बजट सत्र के बाद ही अध्यक्ष पद को लेकर फैसला हो। किसी एक नाम पर सहमति ना बन पाने की सूरत में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने एक अन्य विकल्प भी सुझाया है। ऐसा कहा जा रहा है कि बैठक में राहुल गांधी का इस्तीफा मंजूर किया जाए और उनके कामकाज की तारीफ की जाए इस बारे में मांग की जा सकती है। इसके साथ ही महासचिवों को अधिकार दे दिए जाएं, जिससे जिन राज्यों में चुनाव हैं वहां के वो फैसले कर सकें, ये भी मांग उठाई जा रही है। इस्तीफे का पत्र सार्वजनिक कर आगे की सारी संभावनाओं को राहुल ने खत्म कर दिया। इस्तीफे के साथ कांग्रेस को ‘गांधी परिवार’ से मुक्त रखने की दिशा में भी कदम बढ़ा दिया है।

सफाई की जल्दी है तो अपने पैसे से करवा लें : पार्षद पति

कौन बनेगा कांग्रेस अध्यक्ष ?

इस बात पर चर्चाएं तेज हो चुकी है कि अगला कांग्रेस अध्यक्ष कौन बनेगा। पहले पार्टी के पूर्व महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया के नाम को सुझाया जा रहा था, इसके लेकर कई लोगों ने प्रदर्शन भी किया। इसके बाद प्रियंका गाँधी को अध्यक्ष बनाने की मांग उठी, लेकिन अभी तक किसी का भी नाम आधिकारिक रूप से सामने नहीं आया है। राहुल गांधी के इस फैसले के साथ ही यह भी तय हो गया कि 21 साल बाद कांग्रेस की कमान एक बार फिर नेहरू-गांधी परिवार से बाहर किसी और नेता के हाथ में होगी।

जल्‍द ही पाकिस्‍तानी हवाई क्षेत्र से उड़ान भरने लगेंगे भारतीय विमान

Share.