CAB Protest : बिल का विरोध, ट्रेन-उड़ानें रद्द जानिए कैसे हैं पूर्वोत्तर के हालत

0

नागरिकता संशोधन बिल (Citizenship amendment bill ) दोनों सदनों में पास हो चुका है, जिसके बाद देश में हंगामा मचा हुआ है। पूर्वोत्तर के हालात बदतर होते जा रहे हैं । ट्रेने और उड़ाने रद्द की जा चुकी है। भले ही मोदी सरकार (Modi government)  बिल को दोनों सदनों में पास करके खुशियाँ मना रही है, इसे अपनी सबसे बड़ी सफलता मान के चल रही है, लेकिन इस एक बिल के कारण देश जल रहा है। प्रदर्शन का सबसे  ज्यादा असर पूर्वोत्तर में देखने को मिल रहा है।

Hyderabad Encounter पर सुप्रीम कोर्ट की सख्त कार्रवाई

शांति की अपील

बिल के विरोध में लोगों का प्रदर्शन लगातार बढ़ता जा रहा है। लोग कानून का उल्लंघन कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट (Prime Minister Narendra Modi’s tweet ) किया कि मैं असम के अपने भाइयों और बहनों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि बिल के पारित होने के बाद उन्हें चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) ने सुप्रीम कोर्ट में नागरिकता संशोधन बिल 2019 के खिलाफ याचिका दायर की है। कपिल सिब्बल इसकी पैरवी करेंगे। राज्यसभा में बुधवार को नागरिकता संशोधन बिल पास कर दिया गया था, जिसके बाद से ही हंगामा बढ़ गया है। पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि मैं उन्हें कहना चाहता हूं कि कोई भी आपके अधिकारों, विशिष्ट पहचान और संस्कृति को नहीं छीन सकता। यह हमेशा फलता-फूलता और विकसित होती रहेगी। केंद्र सरकार संवैधानिक सुरक्षा, भाषा, संस्कृति और असम की क्षेत्रीय संस्कृति को लेकर प्रतिबद्ध है।

रेप पीड़िता को धमकी, गवाही देने पर उन्नाव कांड जैसा अंजाम, देखें Video

अवॉर्ड वापसी

कहा जा रहा है कि नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ लेफ्ट पार्टियां 19 दिसंबर को देशव्यापी प्रदर्शन करने की तैयारी कर रही है। 2011 में राज्य साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित शिरीन दलवी ने नागरिकता बिल के विरोध में अपना अवार्ड वापस कर दिया है। असम में बुधवार को हजारों छात्रों ने विधानसभा की तरफ मार्च निकाला। डिब्रूगढ़ में छात्रों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया। गुवाहाटी में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगा दिया गया। छात्रों पर पुलिस ने आँसू गैस के गोले दागे, लेकिन फिर भी प्रदर्शन कम नहीं हुआ।

CAB के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका, मोदी सरकार वापस लेगी फैसला ?

        – Ranjita Pathare 

Share.