नागरिक संशोधन बिल पर देश में मचा हाहाकार

0

नागरिकता संशोधन बिल 2019 (Citizenship Amendment Bill 2019) दोनों सदनों में पास तो हो गया है, लेकिन उसके बाद पूरे देश में संग्राम की स्थिति बन  गई है। लोगों ने सरकार (BJP Government) के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। पूर्वोत्तर के कई राज्यों में बिल के खिलाफ प्रदर्शन जारी है, कई जगह सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ाया गया है। कई जगह पर स्थिति आगजनी तक पहुँच गई है। पूर्वोत्तर में चल रहे विरोध के बाद स्पाइसजेट, विस्तारा, इंडिगो ने असम जाने वाली अपनी सभी फ्लाइट को रद्द (All flights to Assam are canceled ) कर दिया है। (Assam protest on CAB)

Citizenship Amendment Bill 2019 : नागरिकता संशोधन बिल को मंजूरी  

गुवाहाटी में कर्फ्यू, असम में आग

(Assam protest on CAB) नागरिकता बिल (Citizenship Amendment Bill 2019) के पास होने के विरोध का सबसे ज्यादा असर असम और गुवाहाटी (Guwahati) में दिख रहा है।  वहाँ यह एक जन आंदोलन बन गया है। असम में छात्र संगठनों की अगुवाई में चल रहे प्रदर्शन में काफी तोड़फोड़ की गई थी। बसों को आग के हवाले कर दिया गया। सड़क पर टायरों में आग लगाई जा रही है। लगातार हो रहे प्रदर्शन को देखते हुए सरकार ने सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है। तिनसुकिया में भारतीय जनता पार्टी के अस्थाई दफ्तर में भी प्रदर्शनकारियों ने आग लगा दी थी। स्थिति को देखते हुए इलाकों में इंटरनेट बंद कर दिया गया है।

 Citizenship Bill : हिंदू-मुसलमानों का अदृश्य विभाजन ?

रेलवे स्टेशन को किया आग के हवाले

(Assam protest on CAB) पूर्वोत्तर में नागरिक संशोधन बिल (Citizenship Amendment Bill 2019) का पुरजोर विरोध किया जा रहा है।  सड़कों पर प्रदर्शन हो रहा है। असम के छाबुआ, पानितोला रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों ने हंगामा किया और इसके बाद रेलवे स्टेशन को आग के हवाले कर दिया। बुधवार को करीब 6 घंटे की बहस के बाद राज्यसभा से नागरिकता संशोधन बिल पास हो गया।  बिल  के समर्थन में 125 तथा विरोध में 99 वोट मिले थे।  बिल पास होने के बाद  प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह भारत के लिए एक अहम दिन है। यह खुशी की बात है कि बिल राज्यसभा से पास हो गया है। सभी सांसदों का, जिन्होंने इस बिल के पक्ष में वोट दिया है उनका दिल से आभार है। यह बिल बरसों से पीड़ा भोग रहे लोगों के दर्द को कम करेगा।

नागरिकता बिल के जो समर्थन मे वो देश भक्‍त नहीं तो देशद्रोही : शिवसेना

            – Ranjita Pathare 

Share.