website counter widget

भाजपा का हाथ अब बबीता फोगाट के साथ, बनी भाजपा उम्मीदवार!

0

दिल्ली में बीते 12 अगस्त को अपने पिता एवं द्रोणाचार्य अवॉर्डी महाबीर फोगाट के साथ अंतरराष्ट्रीय महिला पहलवान (Wrestler) बबीता फोगाट(Babita Fogat) ने भाजपा की सदस्यता ली, उन्हें किरण रिजिजू (Kiren Rijiju) ने सदस्यता दिलाई थी। अब बबीता फोगाट ने हरियाणा पुलिस एसआई की नौकरी छोड़ दी है। बबीता ने गत आठ अगस्त को उच्चाधिकारियों को अपना इस्तीफा भेजा था। दस सितंबर को मधुबन पांचवीं बटालियन के कमांडेंट आईपीएस सुरेंद्र पाल सिंह ने उनका इस्तीफा मंजूर कर लिया था।

चंद्रयान 2 : फिर भेजा जाएगा विक्रम लैंडर…!

इस्तीफ़ा मंजूर होने के बाद महिला पहलवान (Wrestler) बबीता फोगाट (Babita Fogat) अब सक्रिय राजनीति में हाथ आजमाने को बिलकुल तैयार हैं. ऐसे में अब संभावना जताई जा रही है कि भाजपा (BJP) हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Election) में बबीता को बाढड़ा या दादरी विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी घोषित कर सकती है.

भारत और चीन के सैनिकों में हुई झड़प: लद्दाख बॉर्डर


जानकारी के अनुसार इससे पहले महावीर ने दुष्‍यंत चौटाला का हाथ थामा था और जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) में शामिल हो गए थे. उनको जेजेपी के खेल विंग का प्रधान बनाया गया था. जेजेपी के लिए यह अहम कामयाबी मानी जा रही थी. हालांकि अब महावीर फोगाट ने जेजेपी से किनारा कर लिया है और भाजपा में शामिल हो गए है।
अनुच्छेद 370 खत्म होने पर भी बबीता ने लगातार ट्वीट किए थे, उन्होंने एक ट्वीट करते हुए कहा था, ‘देश की आजादी देखने का मुझे सौभाग्य नहीं मिला, कश्मीर को 370 और 35A से मुक्ति मिल जाए यह मेरा परम सौभाग्य होगा. भारत माता की जय. ‘ एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा था , ‘लठ गाड़ दिया, धुम्मा ठा दिया.’

कांग्रेस पार्टी चली RSS की राह


बबीता फौगाट इस समय चोटिल हैं। उनके भाई राहुल फौगाट ने बताया कि घुटने में चोट होने के कारण फिलहाल बबीता मैट से दूरी बनाए हुए हैं। उन्होंने बताया कि पुलिस एसआई की नौकरी छोड़ने वाली बबीता ने अभी कुश्ती से दूरी नहीं बनाई है। कुश्ती खेलना वो जारी रखेंगी।

-मृदुल त्रिपाठी

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.