Babri Demolition Case: इस सीएम ने बहाया था बाबरी में बेगुनाहों का खून!

0

छह दिसंबर, 1992 का वह दिन कोई नहीं भूल सकता, जब अयोध्या  मे आसमान चीरते नारे लग रहे थे ‘एक धक्का और दो, बाबरी तोड़ दो’ ऊंचे स्वर में जय श्री राम के उद्घोष, मस्जिद पर चलती कुदालों की ठक-ठक के बाद बाबरी मस्जिद को ढहा दिया गया और इसके अगले दिन सात दिसंबर 1992 को पूरा देश  सन्नाटे में डूब गया था। इसके बाद शुरू हुआ हिंसा का नया अध्याय जिसमें देश को दो भागों में बाँट दिया गया (Babri Demolition Case)। हिंदुओं ने राम मंदिर बनाने के लिए आवाज़ उठाई तो मुसलमानों ने मस्जिद बनाने की। बाबरी विध्वंस और बेगुनाहों के बहे खून के मामले में अभी तक न्याय नहीं मिल पाया है। इस मामले में कई लोगों को पहले ही आरोपी बनाया गया है।  अब एक मुख्यमंत्री का भी नाम सामने आया है। कहा जा रहा है कि एक मुख्यमंत्री के कारण बाबरी विध्वंस और हिंसा हुई थी।

भारत और अमेरिका अब एक साथ एक मंच पर

जानकारी के अनुसार, उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राजस्थान के पूर्व राज्यपाल रह चुके कल्याण सिंह (Kalyan Singh, former Chief Minister of Uttar Pradesh and former Governor of Rajasthan) के माथे पर अब गिरफ्तारी की तलवार लटकी है! कहा जा रहा है कि कल्याण सिंह को बतौर आरोपी तलब किया जाएगा। कल्याण सिंह वर्तमान में किसी भी संवैधानिक पद पर नहीं हैं, इसीलिए उनके खिलाफ आसानी से कार्रवाई कि जा सकती है। इसके पहले सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि कल्याण सिंह को मुकदमे का सामना करने के लिए आरोपी के तौर पर बुलाया नहीं जा सकता, क्योंकि संविधान के अनुच्छेद 361 के तहत राज्यपालों को संवैधानिक छूट मिली हुई है (Babri Demolition Case)।

Article 370 हटने पर बवाल के बीच CJI जाएँगे कश्मीर!

1992 में बाबरी मस्जिद विध्वंस के समय उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ही थे। इस मामले में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, नृत्यगोपाल दास और साध्वी ऋतंभरा जैसे कई नेताओं को भी आरोपी बनाया गया है, लेकिन ये सभी नेता जमानत पर बाहर हैं। कुछ समय पहले ही कल्याण सिंह ने राम मंदिर को लेकर बयान दिया था। उन्होने कहा था कि राम  मंदिर मुद्दे पर आखिर में गेंद केंद्र सरकार के पाले में ही आएगी। सुप्रीम कोर्ट तथ्यों के आधार पर अपना फैसला देगा। मैं उस पर कोई टिप्पणी नहीं करूंगा। मुझे विश्वास है कि गेंद आखिर में केंद्र सरकार के पाले में ही आएगी।

पाकिस्तानी की युद्ध में हार,आत्मसमर्पण या मौत: इमरान खान

    – रंजीता पठारे 

 

Share.