हमले में इस्तेमाल कार का मालिक भी आतंकी

0

पुलवामा में हुए सबसे बड़े आतंकी हमले में एनआईए (NIA) की जांच के बाद, हमले में इस्तेमाल होने वाली गाड़ी का पता चल गया। इसके बाद तलाश शुरू हुई उसके मालिक की। इस जांच में अब गाड़ी के असली मालिक का भी पता चल चुका है। जांच में यह बात सामने आई है कि हमले में इस्तेमाल होने वाली गाड़ी को हमले से महज़ 10 दिन पहले ही खरीदा गया था। इस गाड़ी को सज्जाद भट नामक शख्स ने खरीदा था जो अब जैश-ए-मोहम्मद का आतंकी बन चुका है।

वहीं इस बात का खुलासा होने पर एनआईए अब इस हमले से जुड़े दूसरे लोगों का पता लगाने की कोशिश कर रही है। वहीं टीम ने बताया कि जिस कार से हमले को अंजाम दिया गया वह मारुति इको कार थी। इस कार को साल 2011 में खरीदा गया था। इसे मोहम्मद जलील अहमद हक्कानी नाम के शख्स ने खरीदा था जो अनंतनाग का निवासी है। इसके बाद हमले से ठीक 10 दिन पहले यानी 4 फ़रवरी को उसने यह कार बेची थी। इस कार को खरीदने वाला बांदीपुरा निवासी सज्जाद भट है। जानकारी में पता चला है कि सज्जाद भट शोपियां के सिराज उल उलूम मदरसे का छात्र है। कार मालिक का पता चलते ही टीम ने शनिवार को सज्जाद भट के घर पर दबिश दी लेकिन सज्जाद भट वहां से पहले ही गायब हो चुका था।

वहीं एनआईए के मुताबिक़ सज्जाद भट अब आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का आतंकी बन चुका है। सोशल मीडिया में सज्जाद भट की हथियार के साथ तस्वीरें भी पोस्ट की गई हैं। एनआईए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी दी कि हमले के बाद कार के पुर्जे-पुर्जे बिखर गए थे। इसके बाद गाड़ी की पहचान के लिए फोरेंसिक जांच और ऑटोमोबाइल विशेषज्ञों की मदद ली गई। जांच में चेसिस नंबर और इंजन नंबर हासिल हुआ जिसके बाद गाड़ी के मालिक का पता चला। अब सुरक्षा एजेंसियां सज्जाद को तलाश रही हैं। एनआईए ने एजेंसियों को सज्जाद भट का पता लगाकर उसे जिंदा पकड़ने का आदेश दिया है। एनआईए ने बताया कि सज्जाद से ही इस हमले में शामिल अन्य लोगों का पता लगाया जा सकता है। आने वाले दिनों में कई लोगों की गिरफ्तारी भी हो सकती है जो इसमें शामिल थे।

प्रभात

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.