वेतन लेने से इनकार नहीं कर सकता

0

सदन की कार्यवाही पिछले कई दिनों से नहीं चली है| इसके बाद भाजपा और एनडीए के सांसदों ने ऐलान किया था कि वे 23 दिन का वेतन और अन्य भत्ते नहीं लेंगे| अब इस मामले में सांसद स्वामी ने बयान जारी करते हुए फैसले का विरोध किया है|

भाजपा के राज्यसभा सांसद सुब्रहमण्यम स्वामी ने सांसदों के वेतन और भत्ते त्यागने के फैसले का विरोध करते हुए कहा है, “मैं रोज़ाना संसद जाता था, अगर सदन नहीं चलता है तो इसमें मेरी गलती नहीं है| मैं सदन में राष्ट्रपति का प्रतिनिधि हूं और जब तक वह ऐसा नहीं कहेंगे, मैं वेतन लेने से इनकार नहीं कर सकता हूं|”

गौरतलब है कि सदन की बार-बार कार्यवाही भंग होने के कारण भाजपा ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए ऐलान किया था कि सदन में कार्य नहीं होने के कारण 23 दिन का वेतन और अन्य भत्ते नहीं लेंगे| उन्होंने आगे बताया था कि कांग्रेस महत्वपूर्ण बिलों को पारित होने से रोककर गैर लोकतांत्रिक कार्य कर रही है, जिससे हमारे करदाताओं का पैसा बर्बाद होता है|

Share.