CCD मामले में मछुआरे ने किया नया खुलासा….

0

कैफे कॉफी डे (Cafe coffee day) के मालिक और पूर्व विदेश मंत्री और बीजेपी नेता एसएम कृष्णा के दामाद वीजी सिद्धार्थ लापता (Cafe Coffee Day founder VG Siddhartha Missing ) हो गए हैं। सिद्धार्थ (V G Siddhartha) 29 जुलाई को मंगलुरु आ रहे थे, लेकिन वे सोमवार शाम 6.30 बजे बीच रास्ते में गाड़ी से उतर गए और टहलने लगे, इसके बाद से ही उनका पता नहीं लग पाया है। सिद्धार्थ कर्नाटक के मंगलुरु स्थित नेत्रावती नदी के पास से गायब बताए जा रहे हैं। तभी से उनका फ़ोन भी बंद आ रहा है।

वहीं एक मछुआरे का कहना है कि उसने आठवें पिलर के पास एक शख्स को नदी में कूदते हुए देखा था| मछुआरे का कहना है कि वह अपनी नाव पर सवार था| उसने घटनास्थल पर जाना चाहा, लेकिन वहां उसे कोई भी नहीं मिला|

Unnao Rape Survivor Accident : उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की कार को सपा नेता ने मारी टक्कर!

कर्ज के कारण दी जान ?

जैसे ही मामला पुलिस के पास पहुंचा वैसे ही एक और खुलासा हुआ। बताया जा रहा है कि कॉफी कैफे डे पर 7 हजार करोड़ का लोन है। इस बात के सामने आने के बाद यह भी कहा जा रहा है कि हो सकता है सिद्धार्थ (Cafe Coffee Day founder VG Siddhartha Missing ) ने कर्ज न चुका पाने के कारण आत्महत्या कर ली हो या वे खुद कहीं चले गए हो। इसके साथ ही पुलिस अपहरण मानकर भी मामला सुलझाने की कोशिश कर रही है। घटना के बाद से पुलिस मुस्‍तैद हो गई है और सिद्धार्थ की तलाश शुरू कर दी है।

Triple Talaq Bill In Rajya Sabha LIVE : राज्यसभा में तीन तलाक बिल पर घमासान

सिद्धार्थ (Cafe Coffee Day founder VG Siddhartha Missing ) मंगलुरु में नदी के पुल पर गाड़ी से उतरे, ड्राइवर से इंतजार करने को कहा। कर्नाटक पुलिस ने नदी और आसपास के इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है। ड्राइवर का बयान दर्ज किया जा चुका है। मंगलूरू पुलिस कमिश्नर संदीप पाटिल ने कहा कि नेत्रावती नदी में तलाशी अभियान चलाने के लिए स्थानीय मछुआरों की नाव सेवा और तलाशी में उनकी मदद ली गई है। हम जांच कर रहे हैं कि उन्होंने आखिरी बार किन-किन लोगों से फोन पर बात की थी।

घटना की जानकारी मिलते ही मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा पूर्व सीएम एसएम कृष्णा के आवास पर पहुंच गए हैं। सीएम के अलावा कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार और बीएल शंकर भी उनके आवास पर पहुंच गए हैं।

जीजा को पाने के लिए बड़ी बहन को उतारा मौत के घाट

Share.