‘असम को अलग कर देंगे’ वाले वीडियो पर भाजपा का पलटवार, शाहीन बाग को कहा ‘तौहीन बाग’

0

असम को भारत (JNU Sharjeel Imam Statement) से अलग कर देंगे’ वाले वायरल वीडियो (viral video) पर राजनीति तेज हो गई है। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) (BJP) ने उस विडियो को शाहीन बाग (Shaheen Bagh) का बताते हुए दावा किया कि वहां भारत के टुकड़े करने की साजिश रची जा रही है। बीजेपी (BJP) की तरफ से संबित पात्रा ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा कि प्रदर्शन की जगह शाहीन बाग (Shaheen Bagh) नहीं, बल्कि दिशाहीन बाग है, तौहीन बाग है। पात्रा ने वहां राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) पर भी निशाना साधा।

दीपिका को चुकाना पड़ा JNU जाने का खामियाजा, फिल्म हुई फ्लॉप

वहीं असम के मंत्री हिमंत बिस्व सरमा (Assam Minister Himanta Biswa Sarma) ने कहा कि शाहीन बाग के विरोध प्रदर्शन के मुख्य आयोजक शरजिल के इस राष्ट्रविरोधी बयान (Anti-national statement) पर सरकार (government) ने संज्ञान लेते हुए उनके खिलाफ केस दर्ज कराने का फैसला लिया है. दरअसल जेएनयू छात्र शरजील इमाम (JNU Sharjeel Imam Statement)
का एक वीडियो वायरल (Video Viral)  हो रहा है. बीजेपी (BJP) प्रवक्ता संबित पात्रा ने यह वीडियो शेयर करते हुए आपत्ति जताई है. इसके साथ ही उन्होंने इस मुद्दे पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि प्रदर्शन की जगह शाहीन बाग (Shaheen Bagh) नहीं, बल्कि दिशाहीन बाग है, तौहीन बाग है.

JNU हिंसा के खिलाफ अनुराग कश्यप सरकार पर जमकर बरसे, देखें Video

इस वीडियो  में सरजील (JNU Sharjeel Imam Statement) कथित रूप से यह कहता सुनाई दे रहा है, ‘हमारे पास पांच लाख लोग हों संगठित तो हम असम या नार्थ-ईस्ट से हिंदुस्तान (North East India) को हमेशा के लिए अलग कर सकते हैं. स्थाई नहीं तो एक-दो महीने के लिए असम को हिंदुस्तान (Hindustan) से कट कर ही सकते हैं. रेलवे ट्रैक पर इतना मलबा डालो कि उनको एक महीना हटाने में लगेगा… जाना हो तो जाएं एयरफोर्स से. असम को काटना हमारी जिम्मेदारी है.’
शरजील (JNU Sharjeel Imam Statement) कथित रूप से यह भी कहता है, ‘असम और इंडिया (India) कटकर अलग हो जाए, तभी वह हमारी बात सुनेंगे. असम में मुसलमानों का क्या हाल है, आपको पता है क्या? वहां एनआरसी (NRC) लागू हो गया है. मुसलमान डिटेंशन कैंप (Muslim Detention Camp) में डाले जा रहे हैं… 6-8 महीनों में पता चलेगा कि सारे बंगालियों को मार दिया गया वहां… अगर हमें असम की मदद करनी है तो हमें असम का रास्ता बंद करना होगा.’

Video : JNU में हमले से स्वरा के दिल में दर्द, छलके आंसू

-Mradul tripathi

Share.