Budget 2020 Speech: वित्त मंत्री ने पढ़ा अब तक का सबसे लंबा बजट भाषण, जाने पूरा बजट

0

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech) ने शनिवार को इतिहास रच दिया। निर्मला का बजट 2020 (Budget 2020) भाषण स्वंतंत्र भारत के इतिहास का सबसे लंबा भाषण बन गया। सीतारमण ने अपना भाषण सुबह 11 बजे शुरू किया था और यह 1 बजकर 40 मिनट तक चला यानी करीब 2 घंटे 40 मिनट तक वित्त मंत्री भाषण पढ़ती रहीं। करीब पौने तीन घंटे लंबे बजट भाषण के आखिर में गला खराब होने की वजह से वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech) आखिरी दो- तीन पेज नहीं पढ़ पाईं और उन्होंने लोकसभा अध्यक्ष की अनुमति से उसे पढ़ा मानकर सदन के पटल पर रख दिया।

Special Announcement of MP Budget 2019 : मध्यप्रदेश बजट में हुए ये ख़ास ऐलान

2019 में भी देश की पहली वित्त मंत्री सीतारमन (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने लंबा बजट भाषण पढ़ा था जो 2 घंटे 17 मिनट तक चला था। इससे पहले यह रिकॉर्ड जसवंत सिंह (Jaswant Singh) के नाम था। उन्होंने 2003 में 2 घंटे 15 मिनट तक बजट भाषण पढ़ा था। 2019 में निर्मला के भाषण को उर्दू, हिंदी और तमिल दोहे शामिल किए गए थे। इस बार भी सीतारमण (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech) ने इस परंपरा को बरकार रखा और कश्मीरी कवि पंडित दीनानाथ कौल नदीम की कश्मीरी भाषा में लिखी कविता पढ़ी। पंडित दीनानाथ कौल नदीम (Pandit Deenanath Kaul Nadeem)  साहित्य अकादमी पुरस्कार विजेता रहे थे।

हमारा वतन फिर से हुआ शालीमार बाग जैसा
हमारा वतन डल झील में खिलते कमल जैसा
नौजवानों के गर्म खून जैसा
मेरा वतन तेरा वतन हमारा वतन
दुनिया का सबसे प्यारा वतन

उन्होंने (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech) आगे कहा- भारत में 15 से 65 वर्ष उत्पादक आयु वर्ग में जनता की संख्या सबसे अधिक है। यह बजट तीन महत्वपूर्ण विषयों के ईर्द-गिर्द बना है। सबके लिए आर्थिक विकास जिसे प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में बार-बार दोहराया है। भारत में डिजिटल क्रांति विश्व में एक अनूठे नेतृत्व के रूप में स्थापित हुई है। यह बजट प्रत्येक नागरिक के जीवन को सहज बनाने के लिए समर्पित है।

MP Budget LIVE : 2 लाख 33 हज़ार करोड़ का कुल बजट पेश

2020 के आम बजट में Finance Minister Nirmala Sitharaman ने देश को यह दिया | Budget 2020

2020 के आम बजट में Finance Minister Nirmala Sitharaman ने देश को यह दिया | Budget 2020बजट भाषण शुरू करते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा- देश की जनता ने विकास के लिए मतदान किया। सरकार महंगाई को काबू करने में कामयाब रही है। वित्त मंत्री ने कहा कि हमारा फोकस रोजगार पर है। हमारे लोगों के पास रोजगार होना चाहिए। यह बजट उनकी आय सुनिश्चित करने और उनकी क्रय शक्ति को बढ़ाने के लिए है। सरकार द्वारा अर्थव्यवस्था को तेजी से आगे बढ़ाने की कोशिश जारी। अर्थव्यवस्था की स्थिति काफी मजबूत है। इस बजट में क्या ख़ास रहा देखिए इस विशेष खबर में।#Budget2020 #Budget #NirmalaSitharaman

Talented India News द्वारा इस दिन पोस्ट की गई शनिवार, 1 फ़रवरी 2020

मेक इन इंडिया नीति से लाभांश शुरू-

भारत अब विश्व स्तरीय सामान बना रहा है और वैसा ही सामान निर्यात कर रहा है।
कारोबार आसान बनाने के लिए उपाय किए गए।
मेक इन इंडिया नीति से लाभांश शुरू। (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)

पैन आवंटन प्रक्रिया को बनाया जाएगा ज्यादा आसान-

पैन के आवंटन की प्रक्रिया को और अधिक आसान बनाने के लिए प्रणाली जल्द।
उपभोक्ता इनवॉयस के लिए गतिमान क्यूआर कोड का प्रस्ताव।
एफएटीए के तहत आय के लिए कड़ी जांच की आवश्यकता।
अप्रत्यक्ष कर की वापसी की प्रक्रिया सरल बनाई गई है। (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)

सस्ते मकान की खरीद के लिए मिलेगी डेढ़ लाख की अतिरिक्त छूट-

सस्ते मकान की खरीद के लिए 1.5 लाख रुपये तक अतिरिक्त कटौती को एक वर्ष बढ़ाने का प्रस्ताव।
धर्मार्थ संस्थाओं के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी तरह इलेक्ट्रॉनिक होगी।
MSME: लेखा परीक्षा के लिए कुल कारोबार की उच्चतम सीमा एक करोड़ से पांच करोड़ होगी।
आयकर अधिनियम में संशोधन करने का प्रस्ताव ताकि फेसलेस निर्धारण की तर्ज पर फेसलेस अपील की जा सके

सहकारी संस्थाओं के लिए कर दर में राहत-

स्टार्टअप हमारी अर्थव्यवस्था के विकास इंजन के रूप में उभर कर आए हैं।
सहकारी संस्थाओं के लिए कर दर में राहत।
लेखापरीक्षा के लिए कुल कारोबार की उच्चतम सीमा 5 करोड़ रुपये करने का प्रस्ताव। (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)

निवेशकों को राहत के लिए लाभांश वितरण कर हटाने का प्रस्ताव-

नई व्यक्तिगत आयकर दरों के लिए प्रतिवर्ष 40 हजार करोड़ का अनुमानित परित्यक्त राजस्व आवश्यक।
निवेशकों को राहत प्रदान करने के लिए लाभांश वितरण कर को हटाने का प्रस्ताव।
विद्युत क्षेत्र में निवेश के लिए घरेलू कंपनियों को भी 15 फीसदी रियायती कॉर्पोरेट कर देने का प्रस्ताव

पांच लाख तक की सालाना आय पर कोई टैक्स नहीं-

5 लाख तक की सालाना आय पर कोई कर नहीं।
5 से 7.5 लाख के बीच अब 10 प्रतिशत की दर लागू होगी।
7.5 से 10 लाख के बीच की आय पर अब 15 प्रतिशत की दर लागू होगी।
10 लाख से 12.5 लाख के बीच की आय पर 20 फीसदी की दर लागू होगी।
12.5 लाख से 15 लाख के बीच की आय पर 25 फीसदी की दर लागू होगी
15 लाख से ऊपर की आय पर 30 फीसदी की दर से कर लगता रहेगा।
नई कर व्यवस्था करदाताओं के लिए वैकल्पिक होगी। (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)

कॉर्पोरेट कर दर को 15 फीसदी के स्तर पर लाए-

वर्ष 2020-21 के लिए निवल बाजार उधार 5.36 लाख करोड़ रुपये होगा।
हमने कॉर्पोरेट कर दर को 15 फीसदी के स्तर पर लाने का साहसी और ऐतिहासिक निर्णय लिया। भारत की कॉर्पोरेट दरें विश्व में न्यूनतम दरों में शामिल।
एक नई और सरलीकृत वैयक्तिक आयकर व्यवस्था लाने का प्रस्ताव।

2020-21 में 3.5 प्रतिशत रहेगा राजकोषीय घाटा-

सरकार ने 15वें वित्त आयोग की सिफारिशें मंजूर कर ली हैं।
वित्त वर्ष 2019-20 के लिए व्यय का संशोधित अनुमान 26.19 लाख करोड़ है।
वित्त वर्ष 2019-20 के लिए प्राप्तियां 19.32 लाख करोड़ हैं।
वर्ष 2020-21 के लिए प्रतिशत घाटा 3.5 फीसदी रहने का अनुमान। (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)

सरकार बेचेगी एलआईसी में अपना हिस्सा-

2019-20 बजट के बाद सरकार ने एनबीएफसी के लिए आंशिक ऋण गारंटी स्कीम तैयार की है।
सरकार आईपीओ द्वारा एलआईसी और आईडीबीआई बैंक में अपनी शेयर पूंजी का हिस्सा बेचने का प्रस्ताव करती है।
सरकार ने स्वीकारी आयोग की सिफारिशें।
सरकारी प्रतिभूतियों की कतिपय विनिदिष्ट श्रेणियां अनिवासियी निवेशकों के लिए भी खोली जाएंगी। (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)

कारक विनिमय अधिनियम में संशोधन का प्रस्ताव-

एप आधारित बीजक वित्तपोषण ऋण उत्पाद शुरू किया जाएगा।
सिडबी बैंक के साथ एक्जिम बैंक द्वारा 1000 करोड़ की स्कीम प्रारंभ की जाएगी।
सरकारी प्रतिभूतियों की कतिपय विनिर्दिष्ट श्रेणियां अनिवासी निवेशकों के लिए भी खोली जाएंगी
कारक विनिमय अधिनियम में संशोधन का प्रस्ताव
बैंक की इंश्योर्ड राशि 1 लाख से बढ़ाकर 5 लाख की। यानी अगर बैंक डूबता है तो आपकी 5 लाख रुपये तक की जमा रकम सरकार वापस करेगी। यह राशि पहले एक लाख थी। जिसे बढा़कर अब पांच लाख कर दिया है।

स्टॉक एक्सचेंज के जरिए बेची जाएगी आईडीबीआई बैंक की शेष पूंजी-

आईडीबीआई बैंक की शेष पूंजी स्टॉक एक्सचेंज के माध्यम से बेचे जाने का प्रस्ताव।
अर्थव्यवस्था के पहिए को चलायमान रखने रके लिए एमएसएमआई अत्यंत महत्वपूर्ण।
एमएसएमआई उद्यमियों के लिए अधीनस्थ ऋण प्रदान करने के लिए स्कीम का प्रस्ताव (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)

लद्दाख के लिए 5,958 करोड़ रुपये आवंटित-

नवगठित संघ राज्य क्षेत्रों के लिए 2020-21 में 30,757 करोड़ का आवंटन
लद्दाख संघ राज्य क्षेत्र के लिए 5,958 करोड़ की राशि आवंटित।

राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी की होगी स्थापना-

सरकारी और सार्वजनिक क्षेत्र के बैकों में अराजपत्रित पदों पर भर्ती में महत्वपूर्ण सुधार किए जाएंगे।
राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी की स्थापना का प्रस्ताव।
साल 2022 में भारतीय जी-20 अध्यक्षता की मेजबानी करेगा। इसकी तैयारी के लिए 100 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

तिरुवल्लूर ने जिन पांच रत्नों का जिक्र किया है पीएम ने उसे पूरा कर दिखाया है-

वित्त मंत्री (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech) तमिल कवि तिरुवल्लूर की कविता सुनाई। इसमें पांच रत्नों का जिक्र है। वित्त मंत्री ने तमिल कविता का अनुवाद किया, देश की सुरक्षा का जिक्र आते ही विपक्ष ने हंगामा शुरू किया। वित्त मंत्री पांचों रत्नों की तुलना पीएम मोदी के फैसलों से कर रही हैं। इसके बाद लोकसभा में हंगामा हो गया। वित्त मंत्री ने कहा, राष्ट्रीय सुरक्षा मोदी सरकार (Modi Government) की सबसे बड़ी प्राथमिकता है। वित्त मंत्री ने कहा कि तिरुवल्लूर ने जिन पांच रत्नों का जिक्र किया है तो मोदी ने उसे पूरा कर दिखाया है। स्वास्थ्य, खुशहाली, सुरक्षा और किसानों के लिए कई उपाय किए गए हैं।

सीतारमण ने तमिल कवि की कविता सुनाई-

वित्त मंत्री  (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)ने तमिल कवि तिरुवल्लूर की कविता सुनाई। जिसमें पांच तत्वों का जिक्र है। वित्त मंत्री ने तमिल कविता का अनुवाद किया। वित्त मंत्री ने पांचों तत्वों की तुलना पीएम मोदी के फैसलों से की। जिसपर विपक्ष ने हंगामा किया।

पर्यटन को बढ़ावा के लिए दिए जाएंगे 2500 करोड़-

अहमदाबाद के लोथल में पोत संग्रहालय स्थापित किया जाएगा।
2020-21 के लिए संस्कृति मंत्रालय के लिए 3,150 करोड़ रुपये की व्यवस्था का प्रस्ताव।
पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 2500 करोड़ रुपये की व्यवस्था का प्रस्ताव
भारतीय धरोहर एवं संरक्षण संस्थान की स्थापना होगी।
बड़े नगरों में स्वच्छ हवा सुनिश्चित करने के लिए 44 करोड़ का आवंटन। (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)

अनुसूचित जाति और पिछड़े वर्गों के लिए दिए जाएंगे 85 हजार करोड़-

महिला विशिष्ट कार्यक्रमों के लिए 28,600 करोड़ रुपये का प्रावधान।
सीवर सिस्टमों या टैंकों की सफाई का कोई मैनुअल नहीं होगा।
पोषण संबधी कार्यक्रमों के लिए 35,600 करोड़ का प्रस्ताव
अनुसूचित जाति और पिछड़े वर्गों के कल्याण के लिए 85 हजार करोड़ का प्रस्ताव।
वरिष्ठ नागरिकों और दिव्यांगों के लिए लगभग 9,500 करोड़ का प्रस्ताव।
पांच पुरातात्विक जगहों पर म्यूजियम बनेंगें- हस्तिनापुर, शिवसागर, डोलावीरा, आदिचेल्लनूर, राखीगढी। इसके अलावा रांची में ट्राइबल म्यूजियम बनेगा।

छह लाख से ज्यादा आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को दिए स्मार्टफोन-

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के आश्चर्यजनक रूप से सुखद नतीजे देखने को मिले हैं।
इस साल एक लाख ग्राम पंचायतों को फाइबर टू होम कनेक्शन से जोड़ा जाएगा।
छह लाख से ज्यादा आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्टफोन दिए गए हैं।

भारतनेट कार्यक्रम को छह हजार करोड़ देने का प्रस्ताव-

मुंबई-अहमदाबाद हाई स्पीड ट्रेन के काम में तेजी लाई जाएगी।
भारतनेट कार्यक्रम को छह हजार करोड़ देने का प्रस्ताव।
विद्युत और नवीकरणीय क्षेत्र को 22 हजार करोड़ देने का प्रस्ताव।
क्वांटन प्रौद्योगिकी और एप्लीकेशनों पर राष्ट्रीय मिशन के लिए 8 हजार करोड़ रुपये खर्च करने का प्रस्ताव। (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)

उड़ान स्कीम को बढ़ावा देने के लिए बनेंगे 100 नए एयरपोर्ट-

हमारे समुद्री बंदरगाहों को और दक्ष बनाने की आवश्यकता। उड़ान स्कीम को बढ़ावा देने के लिए 100 और विमानपत्तन तैयार किए जाएंगे। 2020-21 में परिवहन अवसरंचना के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये देने का प्रस्ताव। राष्ट्रीय गैस ग्रीड को बढ़ाकार 27 हजार किलोमीटर पर बढ़ाने का प्रस्ताव।

पीपीपी मॉडल के तहत विकसित होंगे पांच शहर-

निवेश निपटान प्रकोष्ठ स्थापित करने का प्रस्ताव।
भारत को तकनीकी वस्त्रों में अग्रणी बनाने के लिए राष्ट्रीय तकनीकी वस्त्र मिशनका प्रस्ताव।
मोबाइल फोन, इलेकिट्रॉनिक उपकरण, सेमी कंडक्टर की पैकेजिंग के विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए योजना।
उद्योग और वाणिज्य के उत्पाद के विकास और संवर्धन के लिए 27,300 करोड़ का प्रस्ताव।
आर्थिक विकास थीम के अंतर्गत फोकस अवसंरचना पर है।
जल्द ही राष्ट्रीय लॉजिस्टिक नीति जारी की जाएगी।
पीपीपी मॉडल के तहत पांच शहरों को विकसित किया जाएगा। (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)
राजमार्गों के विकास में तेजी लाई जाएगी।

जल्द होगी नई शिक्षा नीति की घोषणा-

मार्च 2021 तक 150 उच्चतर शिक्षण संस्थान शिक्षुता संबंद्ध कोर्स की शुरुआत का प्रस्ताव
राष्ट्रीय पुलिस विश्वविद्यालय और न्यायायिक विज्ञान विश्वविद्यालय का प्रस्ताव
वंचित वर्ग के लिए डिग्री स्तर के ऑनलाइन शिक्षा कार्यक्रम का प्रस्ताव
स्टडी इन इंडिया कार्यक्रम के तहत इंड-सैट का एशिया और अफ्रीका में संचालन होगा।
शिक्षा क्षेत्र के लिए लगभग 99,300 करोड़ रुपये का प्रस्ताव।
कौशल विकास के लिए 3 हजार करोड़ रुपये का प्रस्ताव।
पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप मॉडल पर मेडिकल कॉलेज बनाए जाएंगे।

Bullet Points of Budget 2020: Education Sector#Budget2020 #BudgetSession2020 #budgetwithtaxmantra #nirmalasitharaman #pmoindia #gst

Talented India News द्वारा इस दिन पोस्ट की गई शनिवार, 1 फ़रवरी 2020

स्वच्छ भारत मिशन के लिए 12,300 करोड़ का प्रस्ताव-

स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए 69 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान।
हमारी सरकार ओडीएफ प्लस के प्रति प्रतिबद्ध।
2024 तक सभी जिलों में जन औषधि केंद्र का विस्तार।
स्वच्छ भारत मिशन के लिए 12,300 करोड़ का प्रस्ताव।
जन जीवन मिशन के लिए 3.60 लाख करोड़ का अनुमोदन। (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)

Bullet Points of Budget 2020: Heathly & Clean India#Budget2020 #BudgetSession2020 #budgetwithtaxmantra #nirmalasitharaman #pmoindia #gst

Talented India News द्वारा इस दिन पोस्ट की गई शनिवार, 1 फ़रवरी 2020

इंद्रधनुश मिशन का विस्तार किया गया-

कृषि को प्रतिस्पर्धात्मक बनाकर किसानों की उन्नति सुनिश्चित की जा सकती है।
हमारी सरकार समुद्री मत्स्य संसाधनों के प्रबंधन के लिए फ्रेमवर्क बनाने का प्रस्ताव करती है।
2022-23 तक मत्स्य उत्पादन बढ़ाकर 200 लाख टन करने का प्रस्ताव।
2020-21 के लिए 15 लाख करोड़ का कृषि ऋण लक्ष्य।
प्रधानमंत्री किसान योजना के सभी पात्र लाभार्थी केसीसी स्कीम में शामिल होंगे। (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)
किसानों की बेहतरी के लिए बजट में 16 बिंदुओं की कार्य योजना की घोषणा, राज्यों को प्रोत्साहन देने के उपाय।
इंद्रधनुश मिशन का विस्तार किया गया है। टीबी हारेगा तो देश जीतेगा।

पीएम कुसुम स्टैंड अलोन सोलर पंप के लिए 20 लाख किसान शामिल-

पानी से संबंधित मुद्दे अबह देशभर में अब गंभीर चिंता का विषय।
पानी की समस्या से जूझ रहे 100 जिलों के लिए व्यापक उपाय किए जाने का प्रस्ताव।
आदर्श कानूनों को क्रियान्वित करने वाले राज्यों को प्रोत्साहन का प्रस्ताव।
2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने की प्रतिबद्धता। (Nirmala Sitharaman Budget 2020 Speech)
पीएम कुसुम में स्टैंड अलोन सोलर पंप के लिए 20 लाख किसान शामिल होंगे।
दूध, मांस तथा मछली समेत खराब होने वाला वस्तुओं के लिए किसान रेल चलाई जाएगी।
नागर विमानन मंत्रालय अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय मार्गों पर कृषि उड़ान की शुरुआत करेगा।

Union Budget 2019 Complete List : जानिये बजट में क्या हुआ सस्ता और क्या महँगा

-Mradul tripathi

Share.