बजट 2020 पेश होने के बाद आइये जानते है अब इसपर किसकी क्या प्रतिक्रिया रही

0

मोदी सरकार (Modi Government) ने आज 1 फरवरी 2020 को अपने दूसरे कार्यकाल का दूसरा बजट (People Reaction On Budget 2020) पेश किया। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने वित्तवर्ष 2020-21 के लिए आम बजट पेश किया। सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने अपना भाषण सुबह 11 बजे शुरू किया था और यह 1 बजकर 40 मिनट तक उनका यह भाषण चला करीब 2 घंटे 40 मिनट तक वित्त मंत्री (Finance Minister Nirmala Sitharaman) का भाषण चला। करीब पौने तीन घंटे लंबे बजट के इस भाषण में गला खराब होने की वजह से वे भाषण पूरा नहीं कर पाई। इस से पहले भी निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने 2019 में 2 घंटे 17 मिनट का लम्बा बजट भाषण दिया था। इससे पहले लम्बा भाषण देने का रिकॉर्ड जसवंत सिंह (Jaswant Singh) के नाम था उन्होंने 2003 में 2 घंटे 15 मिनट तक बजट भाषण दिया था।

Budget 2020 Speech: वित्त मंत्री ने पढ़ा अब तक का सबसे लंबा बजट भाषण, जाने पूरा बजट

आपको बता दें कि  वैसे तो शनिवार और रविवार शेयर बाजार (People Reaction On Budget 2020) बंद रहता है। सप्ताह में इन दो दिन ट्रेडिंग नहीं होती, लेकिन आज बजट (Budget 2020) पेश किया गया और शनिवार के दिन भी शेयर बाजार खुला रहा। अब हम आपको बताते हैं पिछले छह साल बजट (Budget Session 2020) के दिन शेयर बाजार का रुख कैसा रहा। छह में से चार बार ऐसा हो चुका है, जब बजट के दिन शेयर बाजार लाल निशान यानी माइनस पर, पिछले साल की ही बात करें तो उस दिन पांच जुलाई केा बजट पेश किया गया था, उस दिन सेंसेक्स एक फीसदी और निफ्टी 1.14 फीसदी नुकसान में रहा था.

Special Announcement of MP Budget 2019 : मध्यप्रदेश बजट में हुए ये ख़ास ऐलान

https://twitter.com/IPSinghSp/status/1223492978703945728

निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman)  ने नए टैक्स स्लैब (Tax) , शिक्षा, पर्यटन, एल.आई.सी (LIC), रेलवे, रिजर्वेशन, बिजली, किसान, महिलाओं के लिए कई बड़े एलान किए है। (People Reaction On Budget 2020) और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने संसद में बजट को देश की उम्मीदों को पूरा करने वाला बताया।
बजट (Budget 2020_ पेश करने के बाद कुछ लोगों के अलग-अलग बयान सामने आए –

सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता आई.पी. सिंह (Spokesperson I.P. Singh tweet) ने तो अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा (People Reaction On Budget 2020) “कॉमेडी आफ्टरनून विद निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ।” उन्होंने आगे लिखा कि “अब यह बजट का नाटक बंद करिए। सभी लोग मिलकर नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) जिंदाबाद के नारे लगाते हुए सदन से ही दिल्ली चुनाव का प्रचार शुरू कर दीजिए। देश को बांटिए और चुनाव जीतने का प्रयास तेज करिए।” आई.पी. सिंह (I.P Singh) ने यह भी लिखा कि “एनएचएआई (NHAI) कर्ज में डूबा है। इसका जिक्र नितिन गडकरी खुद कर चुके हैं। प्रोजेक्ट्स रुके पड़े हैं। बावजूद इसके निर्मला जी एक्सप्रेस-वे की बात करके जनता को बहला रही हैं।”

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Former Congress President Rahul Gandhi) ने बजट को खोखला करार देते हुए कहा (People Reaction On Budget 2020) कि इसमें कुछ ठोस नहीं था और बेरोजगारी से निपटने को लेकर कुछ नहीं कहा गया है। उन्होंने संसद परिसर में संवाददाताओं से कहा, ”मुख्य मुद्दा बेरोजगारी है। मुझे इसमें कोई ऐसा विचार नहीं दिखा जो रोजगार पैदा करने के लिए हो।”

कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ प्रवक्ता आनंद शर्मा (Senior Congress party spokesperson Anand Sharma tweet) ने ट्वीट कर लिखा, ”किसानों की आय दोगुना करने का वित्त मंत्री का दावा खोखला है और तथ्यात्मक वास्तविकता से परे है। कृषि विकास दर दो फीसदी हो गयी है। आय दोगुनी करने के लिए कृषि विकास दर को 11 फीसदी रहना होगा।”

कांग्रेस प्रवक्ता संजय झा (Sanjay Jha) ने कहा कि क्या भारत के इतिहास में सबसे विनाशकारी वित्त मंत्री ने हमें बताया कि 2022 तक कृषि आय दोगुनी करने की स्थिति क्या है? यह बस एक झूठ है। उनके आंकड़े और भाजपा दोनों झूठी है।

दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविन्द केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) ने बजट (People Reaction On Budget 2020) पेश करने से पहले ट्वीट कर लिखा कि “दिल्ली के लोगों को पूरी उम्मीद है कि केंद्र सरकार बजट में दिल्ली के हितों की रक्षा करेगी। चुनाव के मद्देनजर दिल्ली को और भी ज़्यादा मिलना चाहिए। बजट बताएगा कि भाजपा को हम दिल्लीवालों की कितनी परवाह है।”
लेकिन बजट पेश होने के बाद उन्होंने ट्वीट करते हुए बजट को दिल्ली वालों के साथ सौतेला व्यवहार बताया उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि “दिल्ली को बजट से बहुत उम्मीदें थी। लेकिन एक बार फिर दिल्ली वालों के साथ सौतेला व्यवहार हुआ। दिल्ली भाजपा के प्राथमिकताओ में आता ही नहीं, तो दिल्ली वाले भाजपा को वोट क्यों दे? सवाल ये भी है की चुनाव से पहले ही जब भाजपा दिल्ली को निराश कर रही है तो चुनाव के बाद अपने वादे निभाएगी?”

कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने भी लोगों को भटकने वाला बताया उन्होंने कहा (People Reaction On Budget 2020) कि “‘मेक इन इंडिया और असेंबल इन इंडिया में फर्क क्या है। लोगों को भटकाने के लिए, बेरोजगारों को गुमराह करने के लिए इस तरह का सुनहरा सपना दिखाया जा रहा है। पहले 2 करोड़ नौकरी सालाना थी उसे हटाकर 4 और 6 करोड़ बताया गया। असलियत में हमारी जेब खाली है। उन्होंने कहा, कहीं शाहीनबाग है तो कहीं जामिया, कहीं इमरान, इसके आलावा इनके पास कुछ नहीं है।”

बॉलीवुड डायरेक्टर संजय गुप्ता (Bollywood Director Sanjay Gupta Tweet)  ने बजट (People Reaction On Budget 2020) पेश होने से पहले ट्वीट कर लिखा था कि बजट से सरकार ध्यान विचलित करने वाला बताया था, उन्होंने लिखा कि “कल बजट का दिन और मुझे डर लग रहा है, इसके लिए नहीं कि बजट में क्या होगा बल्कि इसके लिए इससे ध्यान विचलित करने के लिए क्या किया जाएगा।”

कुछ आम लोगों की इस बजट को लेकर निराशा जनक बयान भी सामने आये हैं
कानपुर यूनिवर्सिटी (Kanpur University) से पिछले साल ही एमबीए करने वाले प्रशांत तने कहा कि उन्हें बजट 2020 (People Reaction On Budget 2020) से रोज़गार को लेकर बहुत उम्मीदें थीं। प्रशांत बताते है कि सरकार ने बहुत अच्छे डिसीज़न लिए लेकिन रोज़गार के लिए कोई अहम कदम नहीं उठाये गए। प्रशांत का कहना है कि वो अपने माता पिता के बुढ़ापे का अकेला सहारा है। उन्होंने बड़ी मुश्किलों से उसे पढ़ाया कि वो अच्छी जॉब करके उनका सहारा बन सके, लेकिन जॉब मिलना इतना मुश्किल होता जा रहा है कि मेरी राह आसान नहीं रह गई।
एक यूजर ने ट्वीट कर लिखा कि यह बजट निर्मोही की तरह निर-मोदी है। एक यूजर मुनीष (twitter user Munish) ने इस बजट को लेकर बेकार करार देते हुए लिखा है कि इसमें आम आदमी के लिए कुछ नही है और बजट को फेक बताया।

MP Budget LIVE : 2 लाख 33 हज़ार करोड़ का कुल बजट पेश

-Tarun lalwani

Share.