भाजपा नेता के बेटे की गोली मारकर हत्‍या

0

कभी-कभी किसी और का झगड़ा सुलझाना हम पर ही भारी पड़ जाता है। ऐसा ही कुछ भाजपा नेता (BJP leader ) के साथ भी हुआ, जो विवाद को सुलझाने के मकसद से दो युवकों के बीच गया और उसी की हत्या कर दी गई। मामला उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अमेठी (Amethi) का है। जहां पर एक भाजपा नेता के बेटे की मामूली सी बात पर हत्या कर दी, जो खुद भी राजनीति में सक्रिय था। घटना के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए।

ATM कार्ड है आपके पास तो मिलेगा एक्सीडेंटल क्लेम

अमेठी में यह घटना पुलिस अधीक्षक (Superintendent of Police ) कार्यालय से एक किलोमीटर की दूरी पर हुई। घटना के बाद अमेठी में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया और शव को पोस्टमार्टम (Postmortem) के लिए भेज दिया गया। घटना के बारे में पुलिस ने बताया कि कोतवाली क्षेत्र के मुसाफिरखाना मार्ग पर स्थित बिशुनदासपुर में रहने वाले अर्पित और चंद्रशेखर के बीच पुरानी किसी बात को लेकर विवाद हो गया। इसके बाद भाजपा नेता शिवनायक सिंह के बेटे और भट्टा व्यवसायी सोनू सिंह दोनों को समझाने पहुँच गया, लेकिन गुस्से में चंद्रशेखर ने सोनू पर ही गोलियां चला दी और मौके से भाग गया। सोनू राजनीति में भी सक्रिय थे। इसके बाद सोनू को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई।

शिवसेना के सामने कांग्रेस-NCP की नई डिमांड लिस्ट!

घटना के बाद ग्रामीणों ने एसपी की मौजूदगी में पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। वहीं मृतक के परिजनों ने आरोपी की गिरफ्तारी से पहले सोनू का पोस्‍टमार्टम कराने से इनकार कर दिया। पुलिस अधीक्षक डॉ. ख्‍याति गर्ग ने घटना के बारे में बताया कि मृतक के परिजनों द्वारा दी गई शिकायत के आधार पर पुलिस ने चंद्रशेखर केसरवानी व शुभम तिवारी के साथ-साथ तीन अज्ञात बदमाशों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए तीन टीमें बनाई गई हैं। इसके साथ  ही पुलिस अधीक्षक डॉ. ख्‍याति गर्ग ने मृतक के परिजनों को भरोसा दिलावा है कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

महाराष्ट्र में अभी भी ऐसे बन सकती है सरकार

     – Ranjita Pathare 

Share.