website counter widget

आयोध्या में इस हिन्दू की मदद से बनेगी मस्जिद!

0

आयोध्या: सुप्रीम कोर्ट(Supreme court) ने ऐतिहासिक फैंसला सुनाते हुए विवादित स्थल पर राममंदिर(Rammandir) बनाने का आदेश दिया है। और मस्जिद बनाने के लिए 5 एकड़ जमीन देने के लिए कहा है। लेकिन अभी यह निर्धारित नहीं हुआ है की जमीन अयोध्या में कहा दी जायेगी। इस फैंसले के बाद सुन्नी वक्फ बोर्ड (Sunni Waqf Board) ने कहा है कि वो कानूनी राय (Legal Opinion) लेने के बाद तय करेगा कि मस्जिद के लिए पांच एकड़ जमीन (5 Acre Land for Mosque) ले या नहीं. इस बीच आयोध्या के एक निवासी ने मस्जिद मस्जिद बनाने के लिए 5 एकड़ जमीन दान देने के लिए कहा है। सबसे ख़ास बात जमीन दान देने की बात कहने वाला ये आदमी हिन्दू धर्म का है।

अयोध्या की बात, सिंधिया बीजेपी के साथ!

जानकारी के अनुसार तहसील सोहावल के मुस्तफाबाद निवासी राजनारायण दास का कहना है कि उनके पास बड़ा गांव के पास सारंगापुर रोड पर पांच एकड़ जमीन है. उसे मस्जिद बनने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है. वो सहर्ष इस जमीन को देने को तैयार हैं. उन्होंने बताया कि जल्द ही वो जिलाधिकारी से मिलकर जमीन दान देने के लिए प्रपोजल सौंपेंगे.राजनारायण चाहते हैं कि सरकार मुफ्त में उनकी जमीन लेकर मस्जिद के लिए सुन्नी वक्फ बोर्ड को सौंप दें।, आपको बता दे सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सुन्नी वक्फ बोर्ड को अयोध्या जनपद में दी जाने वाली पांच एकड़ जमीन के लिए कई लोग अपनी जमीन देने के लिए सामने आए हैं. उनमें से ही एक सोहावल तहसील के मुस्तफाबाद निवासी राजनारायण दास भी है।

अयोध्या विवाद सबसे कठिन मामला था: जस्टिस बोबडे

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद आयोध्या प्रशासन मस्जिद बनाने के लिए 5 एकड़ जमीन ढूढ़ने में जुटा हुआ है। इस संबंध में जिलाधिकारी ने जनपद के सभी पांचों तहसीलों से जमीन की रिपोर्ट मांगी है. इससे अलग अयोध्या जनपद के कई लोगों ने जमीन देने का प्रस्ताव दिया है. शायद लोगों के द्वारा इस प्रस्ताव की मुख्य वजह ये है क्योंकि सुप्रीम कोर्ट के फैंसले को दोनों पक्षों के लोगों ने स्वीकार किया था।

अयोध्या के बाद सुप्रीम कोर्ट दे सकती है राहुल गांधी पर फैसला

-Mradul tripathi

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.