website counter widget

Ayodhya Case Verdict 2019 : इन पांच जजों ने सुनाया राम मंदिर का ऐतिहासिक फैसला

0

अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट फैसला आ चुका है। बीते महीने ही सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की पीठ ने इस मामले की सुनवाई पूरी की थी। बरसों से चले आ रहे इस मामले की सुनवाई 40 दिनों में पूरी की गई। तब से ही पूरे देश को कोर्ट के फैसले का इंतजार था। अब आज पूरे देश का ये इंतजार खत्म हो गया है। हिन्दू और मुस्लिम की तीखी बहस  के बाद अब यह तय हो गया है कि अयोध्या में राम मंदिर बनेगा। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुवाई में पांच जजों की पीठ ने इस मामले को सुना और ऐतिहासिक फैसला सुनाया। अयोध्या मामले की सुनवाई करने वाले जज कौन हैं। आज हम आपको उन पांचों जजों के बारे में बता रहे हैं।

जस्टिस रंजन गोगोई, चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया

जस्टिस शरद अरविंद बोबड़े (एस.ए. बोबड़े)

जस्टिस धनंजय यशवंत चंद्रचूड़

जस्टिस धनंजय यशवंत चंद्रचूड़

जस्टिस अब्दुल नज़ीर

 क्या आया फैसला :

सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण पर अपनी मुहर लगा दी है। इसके साथ ही कोर्ट ने यह भी कहा कि अयोध्या में मस्जिद का निर्माण भी किया जाएगा। मुस्लिम पक्ष को पांच एकड़ जमीन दी जाएगी। वहीं सरकार तीन महीने के अंदर मंदिर निर्माण के लिए प्रक्रिया शुरू कर एक समिति का गठन करेगी। इस फैसले के आने के बाद हिन्दू और मुस्लिम सभी पक्षों ने अपनी सहमति जताई है और कोर्ट के फैसले का सम्मान किया है।

Ranjita Pathare 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.