Ayodhya Land Dispute : अयोध्या केस में सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला

0

शीर्ष न्यायालय ने आज यानि शुक्रवार को अयोध्या मामले (Supreme Court On Ayodhya Daily Hearing) पर बड़ा फैसला सुनाया है। अब राम जन्मभूमि- बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले मे रोज सुनवाई होगी और जल्द से जल्द मामले का निपटान किया जाएगा। इस बारे में मुख्य न्यायाधीश  रंजन गोगोई ने फैसला सुनाया कि मामले में 6 अगस्त से नियमित सुनवाई होगी जो खुली अदालत में होगी। मध्यस्थता का कोई नतीजा नहीं निकला और अब सुनवाई पूरी होने तक रोजाना इस पर सुनवाई होगी।

रेलवे स्टेशन पर अब नहीं दिखेंगे भिखारी

अयोध्या मामले पर सुनवाई के लिए मुख्य न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई वाली पांच सदस्यों की संविधान पीठ ने 18 जुलाई को एक तीन सदस्यों की मध्यस्थता पैनल का गठन किया था। इस पीठमें न्यायमूर्ति एस ए बोबडे, न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति एस ए भी शामिल हैं।

Supreme Court On Ayodhya Daily Hearing :

भारतीय पत्रकार को मिला Ramon Magsaysay Award 2019

इस बारे में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court On Ayodhya Daily Hearing) पहले भी बयान दे चुका है कि  अयोध्या मामला सिर्फ भूमि विवाद ही नहीं बल्कि यह धर्म, आस्था और लोगों की भावनाओं से जुड़ा मामला है। कुछ फैसले सिर्फ दिमाग से नहीं लिए जा सकते हैं। सीजेआई ने कहा था कि अभी मध्यस्थता की रिपोर्ट को रिकॉर्ड पर नहीं लिया जा रहा, क्योंकि ये गोपनीय है। पैनल जल्द अंतिम रिपोर्ट सौंप दे।

तीन तलाक का मतलब ही होता है देह व्यापार!

सुप्रीम कोर्ट ने इसी साल 8 मार्च को सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस एफ. एम. कलीफुल्ला की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय समिति गठित की थी, जिसे मामले का सर्वमान्य समाधान निकालना था। मध्यस्थता समिति में आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर और वरिष्ठ वकील श्रीराम पांचू भी शामिल थे । इतना सब कुछ करने के बाद भी अभी तक इस मामले पर फैसला नहीं आ पाया है। अब उम्मीदव जताई जा रही है कि जल्द ही कोई बड़ा फैसला लिया जाएगा।

Share.