आसाराम को जीवन भर करना होगा यह काम

0

नाबालिग से दुष्कर्म के मामले में आज जोधपुर अदालत ने आसाराम और उसके अन्य साथियों को दोषी करार दिया था| अब इस मामले में आसाराम को सज़ा भी सुनाई जा चुकी है|

बताया जा रहा है कि आसाराम को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है| सज़ा सुनते ही वह रो पड़ा|एससी-एसटी कोर्ट के विशेष जज मधुसूदन शर्मा की अदालत ने नाबालिग से रेप के मामले में आसाराम को उम्रकैद की सजा सुनाई है। इसके अलावा उनके साथ सहअभियुक्त शिल्पी और शरतचंद्र को 20-20 साल कैद की सजा सुनाई गई है।हालांकि सबूतों के अभाव में शिवा और प्रकाश को बरी कर दिया गया है।  अदालत द्वारा दोषी करार दिए जाने के बाद आसाराम की तबीयत अचानक खराब हो गई थी, जिसके बाद जोधपुर जेल में ही एम्बुलेंस बुलाई गई|

गौरतलब है कि आसाराम के अनुयायियों की तादाद को देखते हुए प्रशासन ने कार्रवाई के पहले ही सुरक्षा के कड़े प्रबंध कर लिए थे| बताया जा रहा है कि आसाराम ने अपनी उम्र का हवाला देते हुए कोर्ट से गुहार लगाई थी कि सज़ा में थोड़ी नरमी बाराती जाए, लेकिन कोर्ट ने सभी अपील को ठुकरा दिया|

Share.