website counter widget

EU सांसदों के कश्मीर दौरे पर बरसे प्रियंका- ओवैसी 

0

भारत में कश्मीर (Kashmir) मुद्दे को लेकर फिर से बवाल शुरू हो गया है। पहले कश्मीर में रह रहे लोगों को राज्य से बाहर नहीं जाने दिया जा रहा था (EU Delegation’s Kashmir Visit Live), न ही बाहर के लोगों को घाटी में जाने दिया जा रहा था, लेकिन अब यूरोपीय सांसदों (European MPs) को जम्मू-कश्मीर जाने की अनुमति देना भारत सरकार को भारी पड़ गया है। मोदी सरकार के इस फैसले पर विपक्ष के कई नेता सवाल उठा रहे हैं। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने सरकार के इस कदम की आलोचना की है।

रोमांचक हिंगोट युद्ध में कई लोग घायल

घाटी हिंदुओं की या मुसलमान की ?

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने सरकार से सवाल किया है कि घाटी हिंदुओं की है या मुसलमान की ? उनयोने आगे कहा कि यूरोपियन पार्लियामेंट के सांसद जो इस्लामोफोबिया के शिकार हैं उन्होंने सही चुनाव किया है, ऐसे लोग मुस्लिम बहुल घाटी जा रहे हैं। दल में शामिल सभी सांसद नाजी लवर हैं (EU Delegation’s Kashmir Visit Live)। उन्होने एक गाना अलिखते हुए ट्वीट किया कि गैरों पर करम अपनों पर सितम, ए जाने वफा ये जुल्म न कर। रहने दे अभी थोड़ा सा धरम।

भाईदूज पर मायके जाने की जिद पर पति ने किया एसिड अटैक

बड़ा अनोखा राष्ट्रवाद है

सांसद असदुद्दीन ओवैसी के साथ ही कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने भी सरकार पर सवाल उठाए हैं। उन्होने भी ट्वीट कर सरकार के फैसले की आलोचना की। उन्होने लिखा कि कश्मीर में यूरोपियन सांसदों को सैर-सपाटा और हस्तक्षेप की इजाजत लेकिन भारतीय सांसदों और नेताओं को पहुंचते ही हवाई अड्डे से वापस भेजा गया! बड़ा अनोखा राष्ट्रवाद है यह। वहीं राहुल गांधी ने भी ट्वीट किया कि EU के सांसदों को जम्मू-कश्मीर जाने की इजाजत है, लेकिन भारत के नेताओं या सांसदों को जाने नहीं दिया जा रहा है। इस बात में काफी कुछ गलत है। इसके साथ ही विपक्ष के कई नेताओं ने भी सरकार के कार्यों पर सवाल उठाए और उनकी आलोचना की।

             – Ranjita pathare 

महाराष्ट्र में भाजपा की सरकार! बीजेपी ने ठुकराया शिवसेना का 50-50 फॉर्मूला

ट्रेंडिंग न्यूज़
[yottie id="3"]
Share.