website counter widget

दशहरे पर भगवान के नाम पर खूनी खेल, देखें Video

0

दशहरे (Dussehra) का पर्व असत्य पर सत्य की जीत का पर्व होता है। इस मौके पर खुशियाँ बांटी जाती है, लेकिन एक गाँव ऐसा है जहां दशहरे के दिन खूनी खेल खेला जाता है। लोग धर्म के नाम पर, भगवान के नाम पर जान देने के लिए तैयार हो जाते हैं। आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh Dussehra Celebration) के कुरनूल जिले (Kurnool District) में विजयादशमी (Vijaya Dashami) के दिन परंपरा के नाम पर खूनी खेल देखने को मिलता है। इसका हाल ही में वीडियो भी सोशल मीडिया (Video viral on social media) पर सामने आया है।

Video : थानाध्यक्ष और पुलिस को भीड़ ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

आंध्र प्रदेश के कुरनूल जिले के देवरगट्टू गांव में हर साल विजयादशमी (Vijaya Dashami) के दिन खून में रंगा उत्सव मनाया जाता है। वहाँ के लोग दो गुटों में बंट जाते हैं और भगवान की मूर्ति के लिए एक दूसरे पर जमकर लाठियां बरसाते हैं। लोगों का ऐसा मानना है कि भगवान माला मल्लेश्वर स्वामी की कृपा उन्हीं लोगों पर बरसती है जो भगवान की मूर्ति पाने में सफल होते हैं (Andhra Pradesh Dussehra Celebration)। ऐसा सालों से होता आ रहा है। पहले इसके लिए रैली निकाली जाती है और फिर लठियाँ बरसाई जाती है। इस बार भी सैंकड़ों की संख्या में गांववाले इकट्ठा हए और दो गुटों में बंट गए और फिर खूनी खेल की खेला।

Rafale Memes : रफ़ाल की पूजा कर ॐ लिखने पर राजनाथ सिंह हुए ट्रोल

कई लोग घायल

भगवान माला मल्लेश्वर स्वामी की मूर्ति पाने की लड़ाई में कई लोग घायल हो गए फिर भी लड़ाई जारी ही रही। स्थानीय प्रशासन और सरकार की तरफ से भी कई बार गांववालों को इस प्रकार के आयोजन को नहीं करने और इस खतरनाक खेल को नहीं खेलने की अपील की जाती है, लेकिन लोग नहीं मानते। इस साल भी दशहरे पर खेले गए इस खूनी में कई लोग घायल हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

केबल वार में RSS नेता को दिनदहाड़े गोलियों से भूना

   – Ranjita Pathare

 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.