इस शख्स की वजह से फैली अराजकता

0

सुप्रीम कोर्ट द्वारा एससी-एसटी एक्ट में किए गए बदलाव को लेकर सोमवार को दलित संगठनों ने जमकर विरोध किया और अराजकता फैलाई| इस हिंसक विरोध के कारण 11 लोगों की जानें गई| इस घटना के बाद हर किसी के मन में विचार आ रहा है कि आखिर इस अराजकता को फ़ैलाने के पीछे किसका हाथ है|

इस घटना के बाद ख़बरों में एक नाम चर्चा में आ रहा है और इसी व्यक्ति को घटना का मास्टरमाइंड भी बताया जा रहा है| यूपी के मेरठ और उसके आसपास के क्षेत्रों में हुई हिंसा भड़काने का मास्टरमाइंड योगेश वर्मा को बताया जा रहा है|

कौन है योगेश वर्मा?

जानकारी के अनुसार, मेरठ में हिंसा फैलाने के पीछे बीएसपी नेता योगेश वर्मा का नाम सामने आया है| बीएसपी नेता योगेश वर्मा मेरठ के हस्तिनापुर से विधायक रहे हैं| मेरठ की एसएसपी मंजिल सैनी ने दावा किया है कि बीएसपी के पूर्व विधायक योगेश वर्मा का हाथ है| उन्होंने कहा कि योगेश वर्मा ही यूपी में हिंसा के मुख्य साजिशकर्ता हैं|

बता दें कि सोमवार को दलित संगठन द्वारा किए गए भारत बंद के दौरान प्रदर्शन ने मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश सहित अन्य राज्यों में हिंसा का रूप धारण कर लिया| उत्तरप्रदेश के मेरठ, मुजफ्फरनगर, हापुड़, आगरा और आजमगढ़ सहित कई जिलों में हिंसा हुई थी|

बता दें कि एससी-एसटी एक्ट को लेकर पुणे के कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में कार्यरत भास्कर गायकवाड़ ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी, जिसके बाद 20 मार्च को कोर्ट ने एससी-एसटी एक्ट पर फैसला सुनाया था| इसके बाद इस मामले में राजनीति शुरू हो गई और 2 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ दलित संगठनों ने भारत बंद किया|

Share.