website counter widget

डीएम ने की बदसलूकी, कॉलर खींचकर की धक्का-मुक्की

0

अमेठी: जब समाज की रक्षा के लिए बनाये गए प्रशासनिक अधिकारी (administration Officer) ही अभद्रता पर उतर आये तो भी आम-जनता का क्या होगा। एक ऐसा ही मामला अमेठी (Amethi) से सामने आया है जिसमे अमेठी में ईंट भट्ठा व्यवसायी की हत्या के दूसरे दिन पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे अमेठी के डीएम (Amethi DM Prashant Sharma) मृतक के परिजनों से संवेदना व्यक्त करने हुए दिलासा देने की बजाय अभद्रता पर उतर आए। डीएम ने मृतक के चचेरे भाई की शर्ट खींचकर उसके साथ धक्का-मुक्की की। छोटे भाई ने बड़े भाई से की जा रही अभद्रता का विरोध किया तो डीएम ने उसे भी डांटकर चुप रहने को कहा। जानकारी के अनुसार शहर के विशुनदासपुर वार्ड के रहने वाले विजय कुमार सिंह उर्फ सोनू की मंगलवार सरेआम हमलावरों ने ताबड़तोड़ गोली मारकर हत्या कर दी थी। हत्‍याकांड के बाद बुधवार तड़के जिला अस्पताल में जमकर हंगामा किया गया था । मृतक व्यवसायी के परिजन मुख्‍यमंत्री को ज्ञापन सौंपने समेत मांगों को लेकर शव का पोस्‍टमॉर्टम कराने से इन्‍कार कर दिया था।

जानिए सबरीमाला विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में क्या हुआ खास ?

इसी दौरान डीएम प्रशांत शर्मा (Amethi DM Prashant Sharma) अचानक पोस्टमॉर्टम हाउस पहुंच गए। यहां डीएम ने सोनू के चचेरे भाई सुनील सिंह से पूरे मामले की जानकारी लेनी शुरू की। बातचीत चल ही रही थी कि डीएम सवेंदना और दिलासा देने की जगह अभद्रता पर उतर आये।डीएम सुनील के भाई को पीछे से शर्ट खींचकर धक्का देते हुए भीड़ के बीच में ले गए। इस दौरान डीएम लगातार सुनील से कह रहे थे कि पहचानो इसमें किसके पास असलहा है। मृतक के छोटे भाई गौरव सिंह उर्फ बादल ने जब अभद्रता पर आपत्ति जताई तो उसे डांटकर चुप करा दिया। हालांकि, भीड़ के उग्र होने पर वह शांत हो गए। इस दौरान किसी ने पूरे वाक्ये का वीडियो बना लिया जो बाद में सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

शीर्ष अदालत ने स्वीकार की राहुल गांधी की माफी

जानकारी के अनुसार ये पूरा मामला गौरीगंज कोतवाली क्षेत्र के विशुनदासपुर गांव का है। यहां के निवासी अर्पित सिंह किसी काम से शहर आया था। मंगलवार देर शाम मुसाफिरखाना तिराहे पर स्थित नहर पुल के पास अर्पित को दो बाइक सवार पांच युवकों से विवाद हो गया। अर्पित ने विवाद की जानकारी अपने बड़े भाई ईंट व्यवसायी विजय कुमार सिंह उर्फ सोनू को दी। सूचना मिलते ही जैसे ही सोनू नहर पुल के पास पहुंचे तभी बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी। एक गोली सोनू के सिर पर लगी, जबकि दूसरी पेट में लगी। गोली मारने के बाद बदमाश फरार हो गए।

क्यों हैं सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर रोक ?

-Mradul tripathi

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.