शिवपुरी हादसा: सुल्तानगढ़ झरने में बहे सभी 9 शव मिले

0

शिवपुरी से लगभग 55 किलोमीटर दूर के सुल्तानगढ़ के पास एक झरने में 15 अगस्त को पानी के तेज़ बहाव में बहे 9 लोगों के शव मिल चुके हैं| सभी के शव बेहद दर्दनाक हालत में मिले हैं| पांच शव शुक्रवार को पार्वती नदी के अलग-अलग क्षेत्रों से मिले| एनडीआरएफ की तीन में बाकी के चार लोगों के शवों को भी खोज निकाला गया | ये सभी लोग पिकनिक मनाने वहां पहुंचे थे, लेकिन अचानक पानी का बहाव तेज होने के कारण वे नदी के बीच बने टापू पर फंस गए| इसके बाद करीब 100 फीट की ऊंचाई से गिरकर पानी के तेज बहाव में बह गए थे| सभी शव वीभत्स हालत में थे|

एसडीआरएफ ग्वालियर के 18 सैनिक, 6 प्रधान आरक्षक, 1 एसआई और 1 कंपनी कमांडर ने मिलकर शुरुआती खोज अभियान चलाया, जिसके बाद कई गोताखोरों की भी मदद ली गई| पानी की तेज धारा में चट्टानों पर फंसे लगभग 45 लोगों को राहत अभियान में पुलिस और स्थानीय लोगों की सहायता से सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया था|

इस मामले की जानकारी मिलने के बाद मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने ट्वीट किया था, “ झरने में पानी के तेज बहाव में फंसे लोगों को सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल, होमगार्ड, स्थानीय पुलिस और स्थानीय लोगों की सहायता से बाहर निकाल लिया गया है|”

पहले ग्वालियर के निवासी निशिकांत कुशवाहा, अभिषेक कुशवाहा, लोकेन्द्र कुशवाहा, सूरज और फैज खान के शव मिले थे| इसके बाद चार लोगों के शव मिले, जिनमें से अंतिम शव ग्वालियर के सूरज का था|

Share.