Twinkle Sharma Murder Case : ट्विंकल शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा

0

अलीगढ़ (Aligarh) के टप्पल क्षेत्र में दुष्कर्म का शिकार हुई मासूम बच्ची ट्विंकल शर्मा (Twinkle Sharma) के लिए पूरा देश न्याय की मांग कर रहा है। मासूम बच्ची की हत्या (Twinkle Sharma Murder Case) के मामले में दिल दहलाने वाले तथ्‍य सामने आए हैं। कई लोग बस यही कह रहे हैं कि किसी मासूम के साथ कोई इतनी हैवानियत कैसे कर सकता है। इस खौफनाक हत्‍याकांड की जांच के लिए छह सदस्‍यीय एसआईटी गठित की गई है। बच्ची की पोस्टमॉर्टम ( Twinkle Sharma Postmortem Report) में कई चौंकाने वाली बातें सामने आई हैं।

Justice For Twinkle Sharma :

Justice For Twinkle Sharma

Twinkle Sharma Murder Case : मासूम ट्विंकल शर्मा के लिए ट्विटर पर गुस्सा

 जानकारी के अनुसार, हमलावरों ने मासूम (Twinkle Sharma Murder Case) की इस बेरहमी से पिटाई की थी कि पसलियों के साथ उसका बायां पैर भी टूट गया था। मासूम ट्विंकल (Twinkle Sharma)  के सिर में भी गंभीर चोटें थी, हालाँकि रिपोर्ट में ( Twinkle Sharma Postmortem Report) दुष्कर्म की पुष्टि नहीं की गई है। फोरेंसिक लैब में भी जांच करने का फैसला लिया गया है। बच्ची के शव का पोस्टमॉर्टम करने वाले पैनल में शामिल डॉ. केके शर्मा ने बताया कि यह पहला पोस्टमॉर्टम था, जिसमें उनकी रूह कांप गई। सात साल से पोस्टमॉर्टम कर रहा हूं, लेकिन ऐसा केस पहले कभी नहीं सामने आया।

Justice for Twinkle Sharma : अगले जनम मोहे बिटिया न कीजो

रिपोर्ट में चौंकाने वाली बात

रिपोर्ट में सबसे चौंकाने वाली बात यह सामने आई है कि बच्ची की किडनी व यूरिनली ब्लेडर नहीं पाया गया। बच्ची का सीधा हाथ धड़ से अलग था। इसकी वजह से उस जगह पर कीड़े पड़ चुके थे। शव सड़ चुका था। जगह-जगह कीड़े पड़ चुके थे। मासूम की मौत शॉक यानि सदमे की वजह से हुई है। रिपोर्ट में मौत का कारण डॉक्टरों ने शॉक ड्यू टू एंटी मार्टम इंजरी लिखा है। इस मामले में अभी तक चार लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। आरोपियों में एक महिला भी शामिल है।

आरोपियों का कबुललनामा

Twinkle Sharma Murder Video : सोशल मीडिया पर न्याय के लिए उतरे लोग

बच्ची के गुनहगारों को भी पुलिस ने पकड़ लिया है। 30 मई को सुबह 8 बजे बच्ची अपने घर से 10-20 कदम की दूरी पर खेल रही थी। पुलिस सूत्रों के अनुसार दो गिरफ्तार आरोपियों जाहिद एवं असलम ने जुर्म कबूला है और महज 10 हजार रूपये के लिए इस अपराध को अंजाम दिया गया है। यह रकम बच्ची के पिता ने उधार ली थी और वह उसे वापस नहीं कर पा रहे थे। आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की प्रक्रिया चल रही है।

Share.