अलीगढ़ की दर्दनाक घटना की तरफ देखें सरकार : शिवसेना

0

देश में बढ़ रहे दुष्कर्म के मामले को देखते हुए भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) की सहयोगी पार्टी शिवसेना (Shiv Sena) ने भी आप सरकार से कहा है कि जीत का जश्न मनाना छोड़कर ऐसे मामलों पर ध्यान दें। शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना (Saamana)  में उत्तरप्रदेश के अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची की हत्या के मामले को लेकर केंद्र की मोदी सरकार (Modi government) और यूपी की योगी सरकार (Yogi government) पर तंज कसा है। उनका कहना है कि अब सरकार को इस ओर ध्यान देना चाहिए।

किर्गिस्तान के बिश्केक जाने के लिए की गुज़ारिश

शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में लिखा है कि उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में सिर्फ 10 हजार रुपए के लिए ढाई साल की बच्ची की निर्मम हत्या कर दी गई। पूरे देश में इसे लेकर आक्रोश की लहर है। कुछ लोगों ने परंपरानुसार निषेध की मोमबत्तियां जलाई हैं। अक्षय कुमार, अनुपम खेर, अभिषेक बच्चन और सानिया मिर्जा जैसी उत्सव मंडली ने इस घटना के खिलाफ अपना आक्रोश व्यक्त किया है। अक्षय कुमार ने अपनी भावनाओं को व्यक्त करते हुए कहा है, मैं भयभीत और निराश हूं। ये वो दुनिया नहीं है, जो हम अपने बच्चों के लिए बनाना चाहते थे। यही पूरे देश की भावना है।

तो धारा 370 को लेकर बीजेपी का विरोध करेगी जेडीयू

सामना में आगे लिखा गया है, “कांग्रेस के शासनकाल में निर्भया कांड हुआ। उस समय जिन लोगों ने संसद नहीं चलने दी और महिला अत्याचार के विरोध में सरकार को कठोर कानून लागू करने के लिए मजबूर किया, वही लोग आज सत्ता में बैठे हैं। इसलिए वर्तमान सत्ताधारियों की जिम्मेदारी बड़ी है। लोगों के मन में इस प्रकार का असमंजस है। अलीगढ़ प्रकरण में लोग रास्ते पर उतर आए हैं। पुलिस महकमे की ये लापरवाही और शिथिलता इस प्रकार के अपराधों को बल देते हैं। अलीगढ़ की इस घटना से समाज सुन्न हो गया है। यह एक प्रकार का बहरापन साबित होता है क्योंकि ऐसी कई कोमल कलियों पर अत्याचार शुरू रहता है। ‘बेटी बचाओ’ के नारे ऐसे समय व्यर्थ साबित होते हैं! अलीगढ़ की घटना से मानवता पर कलंक लगा है और समाज का सिर फिर से शर्म से झुक गया है।”

कमलनाथ लेंगे विधायक पद की शपथ

Share.