लंबे इंतजार के बाद अब मिलेंगे..

0

रक्षा मंत्रालय ने सेना को बड़ी सौगात दी है| बताया जा रहा है कि जवानों के लिए मंत्रालय 639 करोड़ रुपए खर्च करने वाला है| दरअसल, पिछले 9 वर्षों से सीमा पर तैनात जवानों को बुलेट प्रूफ जैकेट देने की बात कही जा रही थी, लेकिन अभी तक इस दिशा में कोई कार्रवाई नहीं की गई|

बताया जा रहा है कि रक्षा मंत्रालय ने सोमवार को सेना के जवानों के लिए 1.86 लाख बुलेट प्रूफ जैकेट का ऑर्डर दिया है| मंत्रालय ने 16 अक्टूबर 2009 को ही जवानों को बुलेट प्रूफ जैकेट देने के लिए स्वीकृति दे दी थी, लेकिन अभी तक सेना को जैकेट नहीं दिए गए| नए बुलेट प्रूफ जैकेट्स का निर्माण रक्षा उपकरण मैन्युफैक्चरर एसएमपीपी प्राइवेट लिमिटेड करेगी, जिसके सैंपल टीबीआरएल चंडीगढ़ में ट्रायल के दौरान सही पाए गए हैं|

जवानों को दिए जाने वाले जैकेट 360 डिग्री की सुरक्षा प्रदान करेंगे| हर जैकेट में बैलिस्टिक फैब्रिक है, जिस पर बोरॉन कार्बाइड सेरॉमिक की प्लेट लगी हुई है| जैकेट का वजन लगभग 10 किग्रा है| यह जैकेट 7.62 गुणा 51 के हथियारों से निकले फायर को सीधे रोक सकती है |

Share.