70 प्रश जले जहाज से निकले लोग सुरक्षित

0

भारत के सैनिकों का हौसला साहस, धैर्य, कर्मठता  और क्षमता सबकुछ प्रणम्य होते हैं| वे खुद पर आई मृत्यु को तो ललकार ही देते हैं साथ ही अन्य लोगों के प्राण भी खुद के प्राण हथेली पर रखकर बचा लाते हैं| ऐसा ही काम करते हुए भारतीय तटरक्षक बंगाल की खाड़ी में जलते हुए एक व्यापारिक जहाज से 22 लोगों को बचाकर लाए हैं|

दरअसल, बंगाल की खाड़ी में व्यापारिक जहाज एमवी एसएसएल कोलकाता जब हल्दिया समुद्र तट से 55 नॉटिकल मील की दूरी पर था, तब उसमें भीषण आग लग गई| इसमें कुल 22 लोग सवार थे| तेज हवा के कारण आग फैलती जा रही थी| जहाज के मास्टर ने उसे छोड़ने का फैसला ले लिया था|  जब इसकी जानकारी भारतीय तटरक्षक बल को मिली, तो तटरक्षकों ने अपने जहाज राजकिरण को फौरन राहत एवं बचाव कार्य के लिए रवाना किया| तटरक्षक बल का जहाज सुबह आठ बजे व्यापारिक जहाज के नजदीक पहुंचा, तब तक एमवी एसएसएल कोलकाता के 70 फीसदी हिस्से में आग लग चुकी थी| तटरक्षकों ने कड़ी मशक्कत के बाद चालक दल के 22 सदस्यों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया|

तटरक्षक बल के कमांडर इंस्पेक्टर जनरल कुलदीपसिंह श्योराण ने बताया, “व्यापारिक जहाज में लदे कंटेनर से समंदर में तेल नहीं फैला है| यदि ऐसा हुआ भी होगा तो तटरक्षक बल इसे देखेगा| मर्चेंट वेसल एसएसएल कोलकाता 464 कंटेनर लेकर जा रहा था| हमने चालक दल के सभी सदस्यों को सफलतापूर्वक बचा लिया है|”

Share.