‘आयुष्मान भारत’ से 5 करोड़ सदस्यों को मिलेगा लाभ

0

मध्यप्रदेश में जल्द ही ‘राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन’ के तहत एक योजना की शुरुआत होने वाली है| दावा किया जा रहा है कि इससे प्रदेश के लगभग पांच करोड़ सदस्य लाभान्वित होंगे| यह योजना 15 अगस्त, 2018 से लागू की जाएगी|

‘आयुष्मान भारत’ योजना का लाभ असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के परिवार वालों और खाद्य सुरक्षा कार्यक्रम के लिए पात्र सभी परिवारों को मिलेगा| इसमें अभी 84 लाख परिवारों का शामिल कर लिया गया है| ‘आयुष्मान भारत’ के अंतर्गत परिवारों को प्रति परिवार पांच लाख रुपए प्रतिवर्ष स्वास्थ्य सुरक्षा कवच उपलब्ध करवाया जाएगा|

इसका लाभ शासकीय और निजी चिकित्सालयों के माध्यम से कैशलेस रूप में दिया जाएगा| योजना के लागू होने के बाद नागरिकों के उपचार पर होने वाले खर्च में भी कमी आएगी| योजना पर प्रति परिवार 1200 रुपए की दर से कुल 1648 करोड़ रुपए का अनुमानित व्यय बताया गया है| एक सर्वे के अनुसार, प्रदेश में असंगठित श्रेणी में लगभग 20 लाख परिवार हैं और लगभग 34 लाख ऐसे लोग हैं, जो पात्रता पर्ची के अंतर्गत आते हैं| इस योजना के अंतर्गत लगभग साढ़े पांच करोड़ से अधिक सदस्यों को स्वास्थ्य सुरक्षा कवच उपलब्ध करवाया जाएगा|

Share.