22 दरिंदों ने 7 महीने तक बच्ची को बनाया शिकार

0

देश में महिलाओं और बच्चियों के साथ छेड़छाड़ और दुष्कर्म के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं| इन घटनाओं पर रोक लगाने के लिए कानून को भी सख्त बनाया जा रहा है, फिर भी दरिंदों के मंसूबों में कोई परिवर्तन नहीं हो रहा है| ऐसी एक घटना और सामने आई है, जिसके बारे में जानकर किसी का भी दिल दहल जाएगा|

चेन्नई में कुछ लोगों ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी| 22 लोगों ने मिलकर एक 12 वर्ष की बच्ची को अपना शिकार बनाया| इन दरिंदों में 66 वर्ष का एक बुजुर्ग भी शामिल है| बच्ची के साथ घिनौना काम पिछले सात महीनों से हो रहा था|

दरअसल, आरोपी कोई और नहीं बल्कि बच्ची के अपार्टमेंट में काम करने वाले चौकीदार, लिफ्ट ऑपरेटर, प्लंबर और यहां तक कि रोज पानी सप्लाई करने वाले लोग हैं| हैवानियत का यह गंदा खेल 66 वर्षीय लिफ्ट ऑपरेटर रविकुमार ने शुरू किया| उसने सबसे पहले बच्ची के साथ दुष्कर्म किया| तीन दिन बाद वह अपने दो और साथियों को लेकर आया, इसके बाद अपार्टमेंट में आने वाले कई कर्मचारी इसमें शामिल हो गए|

जिस अपार्टमेंट में यह 7 महीने से होता रहा, वहां किसी को भनक तक नहीं लगी| बच्ची को नशा देकर उसके साथ यह हैवानियत की जाती रही थी| सात महीने बाद बच्ची ने यह बात स्कूल से लौटते समय अपनी बहन को बताई, इसके बाद बच्ची की मां ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई| पुलिस ने इस मामले में 18 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है वहीं बाकियों की तलाश की जा रही है|

सातवीं क्लास में पढ़ने वाली बच्ची ने बताया कि उसे कभी कोल्डड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाया जाता था तो कभी नशीले इंजेक्शन लगाए जाते थे| बच्ची ने बताया कि उसे कई बार कोई पाउडर सुंघाकर भी बेहोश कर दिया जाता था| आरोपियों ने उसका वीडियो भी बना लिया था और वे लोग उस वीडियो को इंटरनेट पर अपलोड करने की धमकी देते थे|

Share.