Flashback 2019 :  में राजनीति के 10  दिग्गजों ने दुनिया को कहा अलविदा

0

वर्ष 2019 में हमने राजनीति के कई दिग्गजों को खोया (Politicians Death 2019)। ऐसे दिग्गज नेता जिन्होने न केवल देश में बल्कि विश्वस्तर पर भी अपनी पहचान बनाई। इस साल की सबसे बड़ी क्षति भाजपा और कांग्रेस जैसे बड़े राजनीति दलों को पहुंची। आइये जानते हैं 2019 में कौन-कौन से नेताओं ने दुनिया को अलविदा कहा।

मध्य प्रदेश के बीना में निकली 28 BJP सांसदों की शव यात्रा!

जॉर्ज फर्नांडिस

Politicians Death 2019 | Arun Jaitley, Manohar Parrikar, Sheila Dixit

साल की शुरुआत में ही बीजेपी को उस समय झटका लगा जब 29 जनवरी, 2019 को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में रक्षामंत्री रहे जॉर्ज फर्नांडिस का निधन हो गया। 88 साल के फर्नांडिस एनडीए के संस्थापक संयोजक थे। 1975 में आपातकाल के दौरान फर्नांडिस जेल गए थे। (Politicians Death 2019)

मनोहर पर्रिकर

Politicians Death 2019 | Arun Jaitley, Manohar Parrikar, Sheila Dixit

बीजेपी के दिग्गज नेताओं में शुमार मनोहर पर्रिकर का 17 मार्च, 2019 को निधन हो गया था। वे अग्नाशय में कैंसर से पीड़ित थे। सक्रिय राजनीति में उन्होने 1994 में पणजी सीट से बीजेपी की टिकट पर चुनाव जीतने के साथ कदम रखा। इसके बाद वे 2014 से 2017 तक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कैबिनेट में रक्षा मंत्री रहे।

कैलाश विजयवर्गीय के हाथ बंगाल की कमान, BJP में TMC के मंत्री

शीला दीक्षित

Politicians Death 2019 | Arun Jaitley, Manohar Parrikar, Sheila Dixit

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस की वरिष्ठ नेता शीला दीक्षित का 20 जुलाई, 2019 को निधन हो गया था। वे तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री रही थी। उन्हें 2013 में आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल से चुनाव में हार मिली थी। वहीं उनके ससुर उमाशंकर दीक्षित, इंदिरा गांधी की सरकार में गृहमंत्री थे। (Politicians Death 2019)

जयपाल रेड्डी (Jaipal Reddy)

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एस जयपाल रेड्डी ने 28 जुलाई, 2019 को इस दुनिया को अलविदा कह दिया था। वे चार बार विधायक, पांच बार लोकसभा सांसद और दो बार राज्यसभा सदस्य चुने गए थे। 16 जनवरी 1942 को उनका जन्म तेलंगाना में महबूबनगर जिले के मदगुल में हुआ था।

सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj)

पूर्व विदेश मंत्री और बीजेपी की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज ने 6 अगस्त, 2019 को इस दुनिया को अलविदा कह दिया था। सुषमा स्वराज देश की पहली महिला विदेश मंत्री के तौर पर जानी जाती हैं। उनका जन्म 14 फरवरी 1952 को अंबाला में हुआ था। 1970 में सुषमा ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के साथ राजनीति में कदम रखे।

जगन्नाथ मिश्रा (Jagannath Mishra)

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा ने 19 अगस्त, 2019 को इस दुनिया को अलविदा कहा था। वे कई बीमारियों से परेशान थे। राजनीति में प्रवेश करने से पहले वे अकादमिक क्षेत्र में थे। इसके बाद तीन बार वे बिहार के मुख्यमंत्री रहे और 1990 के दशक के मध्य में केंद्रीय कैबिनेट मंत्री भी रहे थे। (Politicians Death 2019)

बाबूलाल गौर (Babulal Gaur)

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में जन्में बीजेपी के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर का 21 अगस्त, 2019 को भोपाल के एक अस्पताल में निधन हो गया था। वे 89 वर्ष के थे और कई बीमारियों से जूझ रहे थे। बाबूलाल गौर 2004-2005 में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। वहीं गोविंदपुरा विधानसभा सीट से 10 बार चुनाव जीत थे।

अरुण जेटली (Arun Jaitley)

पूर्व वित्तमंत्री और बीजेपी के कद्दावर नेता अरुण जेटली ने भी लंबी बीमारी के बाद इस दुनिया को अलविदा कह दिया था। 24 अगस्त, 2019 को नई दिल्ली के एम्स अस्पताल में उनका निधन हो गया था। उन्हें उत्तक कैंसर था। लोकसभा चुनाव 2014 में अमृतसर संसदीय सीट से हारने के बाद जेटली

गुरुदास दासगुप्ता (Gurudas Dasgupta)

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के वरिष्ठ नेता गुरुदास दासगुप्ता का 31 अक्टूबर, 2019 को निधन हो गया था। वे 83 वर्ष के थे। उन्हें फेफड़ों में कैंसर था। बीमारी के कारण ही उन्होने पार्टी के सभी पद छोड़ दिए थे। (Politicians Death 2019)

कैलाश जोशी (Kailash Joshi)

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कैलाश जोशी में भी लंबी बीमारी इस दुनिया को अलविदा कह दिया था। भोपाल के एक निजी अस्पताल में 24 नवंबर को उन्होने अंतिम सांस ली थी। वे वह 1977-1978 में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। वे राज्यसभा एवं लोकसभा के सदस्य भी रह चुके थे।

NRC को नही मान रहे BJP के नेता

         – Ranjita Pathare 

Share.