क्यों बीजेपी के खिलाफ ही बीजेपी के 200 विधायक बैठे धरने पर ?

0

उत्तरप्रदेश : बीजेपी (BJP MLA Protest) इस बार भले ही भारी बहुमत के साथ फिर से सत्ता में आई हो, लेकिन अब पार्टी के अंदर में बगावत के सुर सुनाई देने शुरू हो गए हैं। विपक्ष ही नहीं अब बीजेपी के ही विधायक अपनी सरकार की नीतियों से परेशान है और उनके खिलाफ बगावत करने पर उतर आए हैं। उत्तरप्रदेश (Uttar Pradesh ) की राजनीति में आजकल ऐसे ही हालात बने हुए हैं। वहाँ विधानसभा के शीतकालीन सत्र (Uttar Pradesh Assembly Winter Session) के दौरान बीजेपी के ही विधायक धरने पर बैठ गए।

मध्य प्रदेश के बीना में निकली 28 BJP सांसदों की शव यात्रा!

बीजेपी के 200 विधायक धरने पर बैठे

यूपी की विधानसभा का शीतकालीन सत्र (Uttar Pradesh Assembly Winter Session ) में उस समय अजीबोगरीब हालत बन गए जब बीजेपी (BJP MLA Protest) के ही विधायक अपनी ही पार्टी और स्पीकर के खिलाफ धरने पर बैठ गए। इसके साथ ही उन्होने अन्य पार्टी के नेताओं को भी इस धरने में शामिल कर लिया। सदन के बाहर बीजेपी के लगभग 200 विधायक धरने पर बैठे हैं वहीं एक विधायक का कहना है कि सदन के कुल 90 प्रतिशत विधायक धरने पर बैठे हैं।

कैलाश विजयवर्गीय के हाथ बंगाल की कमान, BJP में TMC के मंत्री

क्या था मामला

जानकारी के अनुसार, गाजियाबाद के बीजेपी विधायक (BJP MLA Protest) संसद में अपनी बात रख रहे थे, लेकिन उनकी बात खत्म होने से पहले ही उन्हें रोक दिया गया। इसके बाद विधायकों ने हंगामा शुरू कर दिया। विधायकों का कहना है कि स्पीकर को मौक़ा देना चाहिए कि गुर्जर अपनी बात रखें। ने बिना बात जाने ही नंद किशोर गुर्जर को अपनी बात रखने से मना कर दिया। वहीं  इस मामले पर नंद किशोर का कहना है कि उन्हें गाजियाबाद पुलिस ने प्रताड़ित किया है। इसी बात को लेकर वह विधानसभा में अपनी बात रखना चाहते थे, लेकिन सदन के अंदर उन्हें बोलने नहीं दिया गया। विधायकों की मांग थी कि गाजियाबाद के एसएसपी सुधीर सिंह (SSP Sudhir Singh) को सदन में बुलाकर दंडित किया जाए। स्पीकर के साथ-साथ उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा (Deputy Chief Minister Dinesh Sharma)  भी पहुंचे, गुर्जर को मनाने, क्योंकि मामला बड़ा हो चुका था।

अजित पवार को ढाई साल का CM बनाएगी BJP

      – Ranjita Pathare

Share.