NDFB की कट्टर आतंकवादी महिलाएं गिरफ्तार

0

यदि हम आतंकियों ( Terrorist ) के बारे में सोचते हैं, तो एक ऐसे व्यक्ति की छवि सामने आती है, जिसके हाथ में बड़ी सी बन्दूक हो, जिसका मुंह कपडे से ढका हुआ हो और जो दिखने में खूंखार हो, लेकिन क्या आपने कभी आतंकी के रूप में महिलाओं के बारे में सोचा है। सेना (Army) ने हाल ही में कुछ आतंकियों को गिरफ्तार किया है, लेकिन ये आतंकी पुरुष नहीं, बल्कि खूंखार महिलाएं हैं। असम (Assam)  में आतंकवादी संघठन NDFB (NDFB Two Women Terrorist Arrested In Chirang) में शामिल दो कट्टर महिला आतंकवादियों को सेना ने हथियार सहित गिरफ्तार कर लिया।

हिरासत केंद्र पर हवाई हमले में 40 की मौत, 80 से अधिक घायल  

जानकारी के अनुसार, NDFB (S) में गरीब ग्रामीण महिलाओं को पिछले काफी समय से भर्ती कराने के प्रयास किये जा रहे हैं। दोनों हार्डकोर महिला आतंकवादी गिरफ्त में आईं। नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ़ बोडोलैंड (National Democratic Front of Boroland ) आतंकवादी संघठन की दोनों महिलाएं पिछले काफी समय से सेना के निशाने पर थी। भारतीय सेना (NDFB Two Women Terrorist Arrested In Chirang by Indian Army) के रेड हॉर्न्स इकाई ने असम पुलिस के साथ चिरांग जिले के पंबारी में ऑपरेशन चलाकर उन्हें पकड़ा गया है। सेना की इस कार्रवाई के बाद आतंकी संगठन के उस गिरोह का पर्दाफ़ाश भी हुआ है, जो अब गरीब महिलाओं को अपने गुट में शामिल करने के लिए प्रयास कर रहे हैं।

वैज्ञानिकों ने बनाया जान बचाने वाला E-Tattoo

कट्टर महिला आतंकवादी गिरफ्तार (NDFB Two Women Terrorist Arrested In Chirang)

कट्टर महिला आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने बताया कि महिलाएं एनडीएफबी का हार्डकोर आतंकवादी हैं, जिनकी ट्रेनिंग नागालैंड के जंगलों में कराइ गई थी और असम के चिरांग जिले में ग्रामीण इलाकों के गरीब महिलाओं को प्रतिबंधित आतंकवादी संघठन एनडीएफबी एसके बाथा और बिदाई गुट में बहला फुसलाकर शामिल कराने के इरादे से नागालैंड से दोनों कट्टर महिला आतंकवादियों को असम के चिरांग जिले में भेजा गया था।

महिलाओं की पहचान नाम रोटिमा बोर्गॉयरी उर्फ बी रमई (संयुक्त सचिव, महिला कल्याण और 42 बैच की प्रशिक्षक) 40 बैच एनडीएफबी (एस) कैडर और जूली बासुमतरी उर्फ बी जीरी ,42 बैच एनडीएफबी (एस) कैडर के रूप में हुई है। सेना और पुलिस के इस अभियान से गिरफ्तार हुए दोनों महिला आतंकवादियों से एनडीएफबीएस के असम में दोबारा से सक्रिय करने और महिलाओं को जोड़ने की मोडस ऑपरेंडी को गहरा झटका लगा है।

राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी को फिर किया गिरफ़्तार

Share.