11 रहस्यमयी मौत : छोटे बेटे का गुलाम था परिवार

0

दिल्ली के बुराड़ी में रविवार सुबह 11 लोगों की रहस्यमयी मौत का मामला उलझता ही जा रहा है| पुलिस की जांच में यह कहा जा रहा है कि सभी लोगों ने आत्महत्या की, लेकिन इसके पीछे का कारण जानने के लिए पुलिस सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर जांच कर रही है|

क्राइम ब्रांच के अधिकारियों को मृतकों के घर से रजिस्टर मिले हैं, जिनमें लिखा है कि परिवार में ललित के कहने से ही सब कुछ होता था| वह जैसा बोलता था, पूरा परिवार वैसा ही करता था| रजिस्टर में भी ललित ही लिखता था| रजिस्टर में ललित ने लिखा था, “अंतिम समय में आखिरी इच्छा की पूर्ति के समय आसमान हिलेगा, धरती कांपेगी, उस वक्त तुम घबराना मत, मंत्रों का जाप बढ़ा देना| जब आप गले में फंदे डालकर क्रिया करोगे तो मैं आपको साक्षात दर्शन दूंगा और आपको आकर बचा लूंगा| आपकी जो आत्मा है, वह इन 11 पाइप द्वारा बाहर निकलेगी और फिर इन्हीं पाइप के द्वारा वापस आ जाएगी, तब आपको मोक्ष की प्राप्ति हो जाएगी|” लटके हुए शव बरगद की जड़ों जैसे दिखने की भी बात कही गई है|

पुलिस का कहना है कि ललित के शरीर में उसके पिताजी की आत्मा आती थी| उसके पिता ने सपनों में जो बातें उससे कही, उसने रजिस्टर में लिखी और घर के बाकी 10 सदस्यों को भी ऐसा ही करने को कहता था| अब पुलिस ललित की जीवनशैली के बारे में पता लगाने की कोशिश कर रही है| ललित की बहन सुजाता ने बताया कि परिवार में तंत्र-मंत्र, जादू-टोना, बाबा का चक्कर जैसी कोई बात नहीं थी| मेरा परिवार रोजाना रात को खाना खाने से पहले गायत्री मंत्र और हनुमान चालीसा पढ़ता था|

सुजाता ने आगे बताया कि बचपन में ललित की आवाज़ चली गई थी, जिसके बाद एक बाबा द्वारा पूजा-पाठ करवाया गया और उसकी आवाज वापस आ गई| वहीं पुलिस ने शख्स की तलाश शुरू कर दी है, जिसने मोक्ष के नाम पर परिवार का ब्रेन वॉश किया होगा|

Share.