मुजफ्फरपुर में ध्वस्त किया जा रहा शेल्टर होम

0

बिहार के मुजफ्फरपुर बालिका गृह भवन (शेल्टर होम) को ध्वस्त करने की कवायद शुरू हो गई है। इस भवन में 30 बालिकाओं का यौन शोषण किया गया था। टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ़ सोशल साइंसेस की रिपोर्ट के खुलासे से पूरे देश में खलबली मच गयी थी। ‘सेवा संकल्प एवं विकास समिति’ संस्था के संचालक ब्रजेश ठाकुर ने बालिका गृह में 30 से ज्यादा बच्चियों के साथ दुष्कर्म किया था।

रिपोर्ट आने के बाद कोर्ट के दवाब में पुलिस ने संस्था के संचालक और मुख्य आरोपी ब्रजेश को गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल इस पूरे मामले की जांच सीबीआई द्वारा की जा रही है। मुजफ्फरपुर नगर निगम ने शेल्टर होम के सामान की एक सूची तैयार कर जब्ती कर ली। इसके बाद खाली कमरों की वीडियोग्राफी बनाई। उसके बाद इस शेल्टर होम को ध्वस्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई।

नगर निगम ने शेल्टर होम को ध्वस्त करने का आदेश देते हुए बताया कि इस भवन के निर्माण के लिए पारित कराए गए नक़्शे का उल्लंघन किया गया है। इस भवन को धवस्त करने का आदेश 12 नवम्बर को दिया गया था जिसके बाद नगर आयुक्त संजय दुबे ने कहा था कि ‘शहर के साहू रोड स्थित भवन को ध्वस्त करने के लिए निगम ने यौन शोषण मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर की मां को एक महीने की मोहलत दी थी। इसके समाप्त होने के बाद यह प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।’

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले में हुई बड़ी कार्रवाई

मुजफ्फरपुर कांड : शेल्टर होम में रात में कर्मचारी भी…

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम पार्ट-2, यूपी के नारी संरक्षण गृह में…

Share.