सीएम फडणवीस ने किसानों की मांग के संबंध में कहा…

1

महाराष्ट्र में पिछले दो दिनों से किसानों की हड़ताल चल रही थी| अपनी मांगों को लेकर किसान मुंबई तक पहुंच गए थे| उनका कहना था कि यदि हमारी मांगें नहीं मानी गई तो हम हड़ताल को आगे बढ़ाएंगे| महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से आश्वासन मिलने के बाद यह हड़ताल समाप्त हो गई है| सीएम ने कहा कि वन भूमि अधिकारों के दावों का इस वर्ष दिसंबर तक निपटारा कर दिया जाएगा|

जानकारी के अनुसार, किसानों ने विधान भवन में फडणवीस से मुलाकात की| महाराष्ट्र सरकार की ओर से लिखित आश्वासन के बाद किसानों ने अपना आंदोलन समाप्त किया| लोक संघर्ष मोर्चा के बैनर तले जारी आदिवासी किसानों का यह आंदोलन मुंबई में आजाद मैदान में चल रहा था| किसानों की मांगों में सूखे के लिए मुआवजा और आदिवासियों के लिए भूमि अधिकारों का हस्तांतरण आदि शामिल हैं|

इस बारे में आदिवासी कल्याण मंत्री विष्णु सावरा का कहना है, “3.6 लाख दावे प्राप्त हुए हैं, जिनमें से 1.74 लाख दावों का आदिवासियों के पक्ष में निपटारा कर दिया गया है| इसी तरह सामुदायिक वन गतिविधि के लिए 12,000 दावे भी प्राप्त हुए हैं, जिनमें से 7,700 का निपटारा कर दिया गया है| अब सीएम द्वारा दिए गए आश्वासन के बाद हम मानकर चल रहे हैं कि किसानों की सभी मांगें पूरी होंगी|” ठाणे से मुंबई का दो दिवसीय मार्च शुरू करने वाले किसानों और आदिवासियों ने बुधवार रात मुंबई के सायन इलाके के सोमैया मैदान में गुजारी थी| गौरतलब है कि आठ महीने पहले भी इस जगह पर ऐसा ही प्रदर्शन किया गया था| तब भी किसानों को सरकार की ओर से आश्वासन दिया गया था, लेकिन अभी तक उनके वादे पूरे नहीं हुए|

20 हजार किसान पहुंचे मुंबई, शुरू हुआ प्रदर्शन

मप्र की राजनीति का सबसे बड़ा मुद्दा है किसान

भाजपा-कांग्रेस को बस भाषणों में किसान की याद आई ?

Share.