website counter widget

MP के 38 जिलों पर मंडराया ख़तरा, रेड अलर्ट जारी

0

मध्यप्रदेश  में बारिश लोगों के लिए आफत बन चुकी है| प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में लगातार बारिश हो रही है| मौसम बिभाग ने भी बताया है कि आने वाले कुछ दिनों तक प्रदेश में बारिश का सिलसिला जारी रहेगा| भारी बारिश से नदी-नाले उफान पर आ गए हैं, जिससे जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है (Madhya Pradesh Heavy Rains)| इसी बीच मौसम विभाग ने एक बार फिर प्रदेश के 38 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है|

कश्मीर मुद्दा : UN ने दिया पाकिस्तान को बड़ा झटका

खबरों के मुताबिक, मौसम विभाग ने मध्यप्रदेश के 38 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है| इनमें से 18 जिलों में रेड अलर्ट है तो वहीं 20 जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है (Madhya Pradesh Heavy Rains)| भारी बारिश से प्रदेश की राजधानी भोपाल के लिए भी आफत बन चुकी है| भोपाल के सबसे बड़े कोलार डैम के सभी 8 गेट खोल दिए गए हैं| 3 साल में यह पहला मौका है जब कोलार डैम के गेट खोले गए हैं|

मंगलवार शाम करीब 5:30 बजे कोलार डैम में पानी फुल टैंक लेवल 462.20 मीटर तक पहुंच गया| लगातार हो रही बारिश के बाद होशंगाबाद में नर्मदा नदी खतरे के निशान को पार कर गई है| मौसम विभाग के भोपाल केंद्र ने अगले 2 दिन बारिश से कोई राहत नहीं मिलने का अनुमान लगाया है|

Video : गर्दन काट दूंगा तेरी हटो एक तरफ – खट्टर

मध्य प्रदेश के इंदौर, धार, खंडवा, खरगोन, अलीराजपुर, झाबुआ, बड़वानी, बुरहानपुर, उज्जैन, रतलाम, शाजापुर, आगर, देवास, नीमच, मंदसौर, होशंगाबाद, बेतुल और हरदा जिले में मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया है| वहीं प्रदेश की राजधानी भोपाल, छिंदवाड़ा, जबलपुर, मंडला, कटनी, बालाघाट के लिए मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है|

वहीं नरसिंहपुर, सिवनी, रायसेन, राजगढ़, विदिशा, सीहोर, अनूपपुर, डिंडोरी, उमरिया, शहडोल, गुना, अशोकनगर, रीवा और सागर जिले में भी ऑरेंज अलर्ट जारी है| मौसम विभाग का कहना है कि, सेंट्रल मध्‍यप्रदेश के ऊपर मानसूनी हवाओं की वजह से कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है| इसकी वजह से राज्य में 15 सितंबर तक बारिश का दौर जारी रहेगा|

मोहन भागवत के काफिले ने ली बच्चे की जान…

-Hriday Kumar

 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.