मध्यप्रदेश के एक अस्पताल में होता है ‘हुक्‍के’ से इलाज

0

धुम्रपान (Smoking ) करना सेहत के लिए हानिकारक होता है। डॉक्टरों धुम्रपान नहीं करने की सलाह देते हैं, वहीं सरकार भी इस मुद्दे पर जनता को कई प्रकार से समझाने की कोशिश करती है, लेकिन आपको जानकार हैरानी होगी कि एक अस्पताल ही मरीजों का इलाज करने के लिए धूम्रपान का सहारा ले रहा है। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के उज्जैन (Ujjain ) में डॉक्टर ही मरीजों को हुक्का पीने कि सलाह दे रहे हैं।

नशे में चूर पुलिसवालें ने की नाबालिग से छेड़खानी

उज्‍जैन (Ujjain) के शासकीय धनवन्तरी आयुर्वेद अस्पताल (Government Dhanvantari Ayurveda Hospital) में मरीजों का इलाज हुक्के के साथ किया जा रहा है। अस्पताल में डॉक्टर खुद मरीजों को हुक्का पीलाते हैं। इस अस्पताल के डॉ. निरंजन सराफ (Dr. Niranjan Saraf) का इस मुद्दे पर कहना है कि इस हुक्के से न सिर्फ दमे बल्कि सायनस, सर्दी सहित सभी श्वास के रोगों से मुक्ति मिल जाती है। मरीज जल्द ठीक हो जाता है। इससे स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

पूर्व सीएम के रिश्तेदार की साँप काटने से मौत

मरीजों को हुक्का पिलाते शासकीय धनवन्तरी आयुर्वेद अस्पताल (Government Dhanvantari Ayurveda Hospital) की कई तस्वीरे भी सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल हुई  है। जिसमें मरीज शौक के लिए नहीं बल्कि अपने इलाज के लिए हुक्का पी रहे हैं। अलग-अलग बीमारियों से पीड़ित कई मरीज अस्पताल में इलाज करवाकर जा चुके हैं। भले ही सभी जगह हुक्के का नशा करने के लिए उपयोग किया जा रहा हो, लेकिन उज्जैन (Ujjain) के अस्पताल में हुक्का मरीजों के लिए वरदान साबित हो रहा है।

दम है तो गिराकर दिखाइए हमारी सरकार: कमलनाथ

शासकीय धनवन्तरी आयुर्वेद अस्‍पताल शायद देश का ऐसा पहला अस्पताल होगा जहां  पर हुक्के से मरीजों  का इलाज किया जाता हो। डॉ. निरंजन सराफ के अनुसार श्वास संबंधी मरीजों के लिए हुक्का लेकर आए हैं, जिसमें आयुर्वेद दवाई डाली जाती है जिसके धुम्रपान करने से दमे के मरीज सहित श्वास के अन्य मरीजों को फायदा मिलता है। इस अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि वे जल्द ही इस तकनीक  को पूरे में फैलाएँगे ताकि इसका सभी लाभ उठा सके।

     – Ranjita Pathare 

Share.