website counter widget

तवा बांध के सभी गेट खोले, नर्मदा नदी में बड़ा बाढ़ का खतरा

0

देश में चारों तरफ बाढ़ ने तबाही मचा रखी है। भारी बारिश की वजह से देश की अधिकतर नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। कई नदियां उफान पर हैं। वहीं अब भारी बारिश के चलते मध्यप्रदेश की जीवनदायिनी नर्मदा नदी का जल स्तर भी काफी बढ़ गया है। अब नर्मदा नदी में जल स्तर के बढ़ जाने से प्रदेश में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है। लगातार हो रही तेज बारिश की वजह से इसका जल स्तर काफी बढ़ गया है जिसकी वजह से मध्यप्रदेश के होशंगाबाद में स्थिति तवा बांध भी लबालब भर चुका है। बांध के पूरी तरह से भर जाने के कारण एहतियात बरतते हुए उसके सभी 14 गेटों को खोल दिया गया है।

मोदी भक्त मायावती ने विपक्ष के लिए कही बड़ी बात!

बांध के सभी गेटों को खोले जाने के कारण नर्मदा नदी उफान पर है। और कई जिले पर बाढ़ का संकट छा गया है। मिली जानकारी के अनुसार तवा बांध के सभी 13 गेट 14 -14 फीट तक खोल दिए गए हैं। इन सभी गेटों से 2 लाख 96 हजार क्यूसेक पानी नर्मदा नदी में छोड़ा जा रहा है। इतनी मात्रा में पानी छोड़े जाने की वजह से नर्मदा नदी का जल स्तर अचानक बेहद बढ़ गया है और बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। बता दें कि तवा बांध के गेटों को पूरे तीन साल बाद खोला गया है। तीन साल के बाद हुई भारी बारिश के चलते तवा बांध पूरी तरह तरह से भर गया है जिसके कारण इसके गेटों को खोलना पड़ा।

मोदी का अगला शिकार गांधी परिवार!

चूंकि लगातार हो रही बारिश के कारण नर्मदा की सहायक नदियों का जल इसमें मिलने से इसका जल स्तर पहले ही काफी बढ़ गया था। लेकिन अब तवा बांध के गेट खुलने से यह स्तर खतरे के निशान पर पहुंच गया है। हालांकि तवा बांध के गेट खोले जाने से पूर्व ही प्रशासन द्वारा निचले इलाकों को सूचित कर अलर्ट जारी कर दिया गया था। अलर्ट जारी करते हुए प्रशासन ने सभी लोगों को सुरक्षित स्थान पर जाने के लिए कहा था।

कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान के मददगार बने राहुल गांधी!

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.