website counter widget

सावधान! दिवाली पर आप खाएँगे नकली दूध से बनी मिठाई

0

दिवाली (Diwali) पर घर की सजावट, माँ लक्ष्मी और गणपती की आराधना, रंगोली और आतिशवाजी के साथ ही सबसे जरूरी होती है मिठाई (sweet) । मिठाई की मिठाई इस त्योहार को और भी खास बना देती है, लेकिन सोचिए क्या होगा अगर यही मिठास आपके और आपके परिवार वालों के लिए जानलेवा बन जाये (Adulteration In Sweets)। सावधान हो जाइए,  क्योंकि दिवाली पर खरीदी गई मिठाई आपकी जान भी ले सकती है। बाज़ारों मे सजी, खूबसूरत और मुंह मे पानी लाने वाली मिठाई आपकी जान ले सकती है।

कांग्रेस सांसद की पत्नी ने किस्मत को बताया रेप की तरह, कहा मजे लीजिए

त्योहारों पर मिठाई की मांग तेजी से बढ़ जाती है, जिसे पूरा करने के लिए मिलावट खोर खतरनाक केमिकल (Dangerous Chemical) और पाउडरों को मिलाकर तैयार करते हैं नकली दूध, मावा और मिठाई (Adulteration In Sweets)। अब ऐसी ही मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh)  में पुलिसिया कार्रवाई में बड़ी मिलावटी और मावे की बड़ी खेप पकड़ी गई है।

दिवाली पर कश्मीरियों को सरकार का सबसे बड़ा तोहफा

सफ़ेद दूध का काला कारोबार

बाजार में बढ़ती मांग और पर्याप्त मात्रा में दूध नहीं होने के कारण दूध का कारोबार करने वालों का नकली दूध एवं मावा का कारोबार फलने-फूलने लगता है, जो हमारी सेहत के लिए हानिकारक (Harmful) होता है। भिंड जिले के ऊमरी जिला में पुलिस ने नकली दूध से भरे कई कंटेनरों को ले जाती एक वैन को पकड़ा है। वैन को पकड़ने के बाद चालक ने पुलिस को गुमराह करने को कोशिश की। ड्राइवर ने पुलिस को बताया था कि इसमें चॉकलेट का पाउडर रखा है। जो भिंड के पंडित ट्रांसपोर्ट से लेकर अकोड़ा के इंदल दूधिया के यहां ले जाया जा रहा है, लेकिन जब पुलिस ने लोडिंग वाहन की चेकिंग की तो उसमें 25 बोरी ग्लूकोस पाउडर एक बोरी सोडियम थायो सल्फेट हाइपो एवं एक ड्रम पकड़ा ।

सावधान! दिवाली पर आप खाएँगे नकली दूध से बनी मिठाई

जानलेवा मिठास

दिवाली और ऐसे ही त्योहारों पर जब मिठाई की मांग बढ़ जाती है तो दूध में खतरनाक केमिकल मिलाया जाता है। अभी तक खाद्य विभाग की छापामारी में मिलावट के ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं। केमिकलों की जांच के बाद यह पाया की ये जानलेवा हो सकते हैं। ताकि दूध गाढ़ा बन जाये, इसके साथ ही चुने का पानी भी मिलाया जाता है। वहीं कई स्थानों पर मावा में आलू भी मिलाई जाती है, जिससे की लागत कम लगे और डिमांड भी पूरी हो सके। वहीं त्योहारी सीजन आते ही खाद्य विभाग भी चौकन्ना हो गया है।

   – Ranjita Pathare 

 

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.