OMG : भोपाल में ममी

0

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) में एक फ्लैट से छह माह पुराना शव मिलने से हड़कंप (6 Months Old Dead Body Found In Flat) मच गया। सबसे चौकाने वाली बात यह है कि, एक फ़्लैट में बंद इस शव की बदबू किसी को नहीं आई न ही किसी को इसके बारे में पता चला। यह घटना राजधानी भोपाल के बग्सेवानिया इलाके की बताई जा रही है, जहां से पुलिस को रविवार शाम एक फ्लैट में एक छह-महीने पुरानी लाश बरामद हुई है। कथित तौर पर फ्लैट पिछले साल के जून माह से बंद है और तभी से फ़्लैट के मालिक को भी नहीं देखा गया है। वहीं लाश को पलंग के नीचे कपड़े में दबाकर रखा गया था।

फिलहाल पुलिस को भी अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि, बरामद किया गया शव पुरुष का है या महिला का। शव का पोस्टमार्टम और डीएनए टेस्ट होने के बाद ही सब कुछ स्पष्ट हो पाएगा। इस मामले में एसपी साउथ संपत उपाध्याय ने कहा, “हम फ्लैट मालिकों की तलाश कर रहे हैं क्योंकि केवल वे ही यह बता पाएंगे कि शव यहां तक ​​कैसे पहुंचा। प्रथम दृष्टया में यह हत्या का मामला प्रतीत हो रहा है। शरीर पर लंबे बाल थे, इसलिए हम इस शव को महिला का शव होने का संदेह कर रहे हैं।”

वहीं शव के बारे में किसी को पता न चलने की वजह बताते हुए पुलिस सूत्रों का कहना है कि, शव को एक गद्दे पर रखा कर, एक सूती कंबल के साथ लपेट कर, बिस्तर के बक्से के अंदर अन्य कपड़ों के बीच रखा गया था। हालांकि शव लगभग छह महीने तक वहीं पड़ा रहा, और कपड़ों में लिपटा होने की वजह से यह विघटित नहीं हुआ था, जबकि यह शव ममीकृत हो गया। ममी बन चुके शव का कोई भी अंग बरकरार नहीं बचा है। यह एक ढांचे में तब्दील हो चुका है, जिस वजह से इसकी शिनाख्त नहीं पाई। फॉरेंसिक अधिकारियों ने कहा कि शव को लगभग छह माह हो चुके हैं। अधिकारियों का कहना है कि कपड़े में लिपटे होने के साथ ही बॉक्स में बंद होने की वजह से इसकी बदबू नहीं आई। जब बक्से को खोला गया तब इस बॉक्स से बहुत तेज़ दुर्गध आई।

यह फ्लैट विमला श्रीवास्तव का बताया जा रहा है जो परिवहन विभाग में क्लर्क के रूप में काम करती थी। विमला श्रीवास्तव और उनका बेटा अमित साथ रहते थे और वे ग्वालियर के निवासी थे। पड़ोसियों ने पुलिस को बताया कि दोनों जून 2018 से ही लापता हैं। नेहरू नगर निवासी रामवीर सिंह राजपूत ने जून 2018 में यह फ़्लैट विमला श्रीवास्तव से खरीदा था, लेकिन घर में शादी की वजह से यह फ़्लैट अभी तक बंद था। इसके बाद जब इस फ़्लैट की सफाई के लिए मजदूर लेकर रामवीर फ़्लैट के अंदर दाखिल हुआ और पलंग को खोला, तब सभी के होश उड़ गए। रामवीर ने इसकी जानकारी तत्काल ही पुलिस को दी। अब पुलिस द्वारा फ़्लैट के मालिकों की तलाश की जा रही हैं और साथ ही शव के बारे में जानकारी हासिल की जा रही है।

(प्रभात)

कॉलेज में छात्रों ने मचाया कोहराम

पानी नहीं बोरिंग उगल रही आग

Madhya Pradesh : कर्जमाफी वाले ‘नाथ’ खुद कर्ज में

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News
Share.