website counter widget

शिवराज सिंह के पिता का निधन, प्रदेश में शोक

0

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) के पिता प्रेमसिंह चौहान (Prem Singh Chauhan) का आज निधन हो गया। प्रेमसिंह चौहान के निधन की खबर जैसे ही प्राप्त हुई वैसे ही तमाम नेताओं ने अपना शोक व्यक्त किया। प्रेमसिंह चौहान की आयु 84 वर्ष थी और वे काफी लंबे समय से अस्वस्थ चल रहे थे। उनके निधन पर सूबे के मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) और ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) जैसे तमाम नेताओं ने दुःख प्रकट किया। सभी नेताओं ने टिवीट कर प्रेमसिंह चौहान को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

11 भारतीयों को स्विस बैंक ने दिया नोटिस

भाजपा प्रेदेश अध्यक्ष राकेश सिंह (Rakesh Singh) ने ट्वीट कर लिखा, “मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री शिवराज चौहान जी के पूज्य पिता श्री प्रेम सिंह के निधन का दुःखद समाचार प्राप्त हुआ। ईश्वर दिवंगत आत्मा को श्रीचरणों में स्थान दे। इस विकट घड़ी में मैं शिवराज जी व परिजनों के साथ सहभागी हूं। ॐ शांति:”

गौरतलब है कि प्रेमसिंह चौहान (Prem Singh Chauhan) का अंतिम संस्कार कल यानी रविवार 26 मई को उनके गृह ग्राम जैत में किया जाएगा। भोपाल से एक दिन पहले ही प्रेमसिंह चौहान को उपचार हेतु मुंबई भेजा गया था। मुंबई के लीलावती अस्पताल में उनका इलाज किया जा रहा था जहां उन्होंने अपनी अंतिम सांस ली।

वाड्रा की जमानत रद्द कराने ED पहुंची कोर्ट, कहा….

प्रेमसिंह चौहान के निधन की सूचना मिलते ही पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह मुंबई रवाना हुए। इससे पहले शिवराज सिंह चौहान ने राजधानी भोपाल में मीडिया को सम्बोधित भी किया था। जब शिवराज सिंह भाजपा की जीत पर मीडिया को सम्बोधित कर रहे थे उसी दौरान उन्हें यह दुखद समाचार प्राप्त हुआ।

नसरुल्लागंज प्रतिनिधि के मुताबिक़ प्रेमसिंह चौहान (Prem Singh Chauhan) को पूरे क्षेत्र में बाबूजी के नाम से सम्बोधित किया जाता था। उनके 5 बच्चों में सबसे बड़े पुत्र शिवराज सिंह चौहान हैं। जैसे ही प्रेमसिंह के निधन का समाचार मिला वैसे ही पूरे प्रदेश में शोक की लहर छा गई। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार देर रात पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह अपने पिता की पार्थिव देह लेकर भोपाल पहुंचेगे। इसके बाद उनकी पार्थिव देह को सुबह 9 बजे तक शिवराज सिंह के आवास 224/9 बी साकेत नगर पर अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा। इसके बाद प्रेमसिंह (Prem Singh Chauhan)  की पार्थिव देह को उनके गृह ग्राम जैत ले जाया जाएगा जहां शाम 4 बजे उनका अंतिम संस्कार नर्मदा तट पर किया जाएगा।

कमलनाथ सरकार को कोई ख़तरा नहीं

Summary
Review Date
Author Rating
51star1star1star1star1star
ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.