उसूलों के पक्के एसपी का फिर तबादला

0

देश में एक तरफ जहां भ्रष्टाचार बढ़ रहा है और पुलिस भी आमजन के साथ दुर्व्यवहार करने से पीछे नहीं हटती है, वहीं एक पुलिस अधिकारी अपनी ईमानदारी और उसके कारण हुए तबादले के कारण सुर्ख़ियों में बने हुए हैं| ईमानदारी और अपने उसूलों के दम पर उन्होंने बड़े हवाला कांड को उजागर किया, जिसके बदले उन्हें दो साल की सेवा के दौरान तीन बार तबादला मिला|

मध्यप्रदेश के तेजतर्रार पुलिस अधीक्षकों में शुमार और हमेशा से अपनी कार्यशैली को लेकर चर्चा में रहने वाले आईपीएस गौरव तिवारी का तबादला एक बार से सुर्ख़ियों में है| अब उनका छिंदवाड़ा से देवास ज़िले में तबादला किया गया है| जब उन्हें छिंदवाड़ा से विदाई दी जा रही थी, तब एसपी के भी आंसू भी छलक गए| इसका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है|

एसपी का दो वर्ष के कार्यकाल में यह तीसरा तबादला है| पहले वे कटनी में थे, जिसके बाद छिंदवाड़ा पहुंचे और अब देवास में उनका तबादला कर दिया गया है| आईपीएस गौरव तिवारी ने 500 करोड़ के हवाला रैकेट में बड़े रसूखदारों के नाम उजागर किए थे| इसके बाद ही वे सुर्ख़ियों में आये थे| इसके बाद अचानक सरकार ने उनका तबादला कर दिया था| एसपी जहां भी जाते हैं, अपनी ईमानदारी और उसूलों के कारण सभी के प्रिय बन जाते हैं| ऐसे ही जब कटनी से उनका तबादला किया गया था तो वहां की जनता ने एक सप्ताह तक इसका विरोध जताते हुए प्रदर्शन किए थे|

Share.